उज्जैन, योगेश कुल्मी| मध्य प्रदेश के उज्जैन (Ujjain) में एसिड अटैक (Acid Attack) का मामला सामने आया है| 13 साल से लिव इन रिलेशनशिप में रह रही नर्स पर बुधवार सुबह पार्टनर ने एसिड डाल दिया। महिला के शरीर का ऊपरी हिस्सा बुरी तरह झुलस चुका है। नर्स को गंभीर हालात में अस्पताल में भर्ती किया गया है। वहीं नीलगंगा पुलिस ने आरोपी मुकेश को गिरफ्तार कर लिया है।

प्रारंभिक जांच में पता चला है कि व्यक्ति को नर्स द्वारा लोगों से बात करना पसंद नहीं था। वह उस पर शक भी करता था। पार्टनर ने महिला पर शक के चलते एसिड डाल दिया। दोनों के बीच पहले भी विवाद हुए हैं| नीलगंगा पुलिस ने प्राणघातक हमले का केस दर्ज किया है।

जानकारी के मुताबिक, साईं धाम कॉलोनी निवासी 35 वर्षीय महिला निजी अस्पताल में नर्स है। उसने करीब 13 साल पहले पति से तलाक ले लिया था। उसके दोनों बच्चे पति के पास ही रहते हैं। वह 13 सालों से अपने गांव रत्नाखेड़ी निवासी 39 वर्षीय मुकेश शर्मा के साथ लिव इन रिलेशनशिप में साईंधाम कॉलोनी में ही रह रही है। परिजनों ने आरोप लगाए है कि मुकेश हमेशा उसपर शक करता था। यहां तक कि अस्पताल में आकर उसकी निगरानी करता। मरीजों और उनके परिजनों से बात करती तो ऐतराज जाहिर करता। वह चरित्र को लेकर शंका भी करता है। बुधवार अलसुबह करीब पांच बजे वह दूध बांटने जाने का कहकर निकला था। इसके बाद महिला सो गई तो मुकेश वापस आया और एसिड से भरा मग उस पर डाल दिया। इससे महिला का चेहरा, पेट व शरीर के अन्य अंग झुलस गए। इसके बाद मुकेश भाग निकला।