लोकायुक्त का एक्शन, किसान से रिश्वत लेते महिला कर्मचारी रंगेहाथ गिरफ्तार

किसान की शिकायत के बाद लोकायुक्त ने महिला कर्मचारी को रंगेहाथ पकड़ने की योजना बनाई और शुक्रवार दोपहर को 500 रुपये के साथ किसान को महिला कर्मचारी के पास भेजा गया। महिला कर्मचारी ने जैसे ही रुपये लिए, लोकायुक्त पुलिस के अधिकारियों ने उसे गिरफ्तार कर लिया।

रिश्वत

उज्जैन, योगेश कुल्मी| मध्य प्रदेश (Madhyapradesh) में रोजाना रिश्वतखोरी के मामले सामने आ रहे हैं| उज्जैन (Ujjain) के कलेक्टर कार्यालय में पदस्थ एक महिला कर्मचारी को लोकयुक्त (Lokayukt) ने रिश्वत (Bribe) लेते रंगेहाथों पकड़ा है| महिला कर्मचारी ने किसान से जमीन के पंजीयन की नक़ल निकालने के नाम पर रिश्वत मांगी थी| शुक्रवार को लोकायुक्त ने कर्मचारी को रिश्वत के रुपए के साथ गिरफ्तार कर लिया|

जानकारी के मुताबिक, महिदपुर तहसील के ग्राम छोटा नलखेड़ा का किसान जगदीश कलाल ने लोकायुक्त में शिकायत की थी कि उसे किसान क्रेडिट कार्ड बनवाने के लिए अपनी कृषि भूमि के पंजीयन की नकल की जरूरत थी। गुरुवार को वह कलेक्टोरेट की नकल शाखा में पहुंचा था। जहां महिला कर्मचारी शशि त्यागी ने नकल के नाम पर उससे 700 रुपयों की मांग की और 200 रुपये एडवांस लेकर शुक्रवार को 500 रुपये लेकर आना को कहा। जिसकी शिकायत किसान ने लोकायुक्त को कर दी|

किसान की शिकायत के बाद लोकायुक्त ने महिला कर्मचारी को रंगेहाथ पकड़ने की योजना बनाई और शुक्रवार दोपहर को 500 रुपये के साथ किसान को महिला कर्मचारी के पास भेजा गया। महिला कर्मचारी ने जैसे ही रुपये लिए, लोकायुक्त पुलिस के अधिकारियों ने उसे गिरफ्तार कर लिया।