उज्जैन: अस्पताल में हंगामा, परिजनों ने डॉक्टर्स से की मारपीट, पुलिसकर्मी पर भी हमला

उज्जैन एसपी सत्येंद्र शुक्ला का कहना है कि पूरे घटनाक्रम की जांच की जा रही है और कुछ भी कहने से पहले सारे मामले की जांच करना आवश्यक है।

उज्जैन, डेस्क रिपोर्ट मध्य प्रदेश (madhya pradesh) के उज्जैन (ujjian) जिले के निजी मेडिकल कॉलेज में शनिवार देर रात डॉक्टर और मरीज के परिजनों के बीच विवाद हिंसात्मक मोड़ पर पहुंच गया। वही डॉक्टर और परिजन के बीच चल रहे विवाद को सुलझाने पुलिस उज्जैन के आरडी गार्डी अस्पताल में पहुंचे। जहां मध्यस्थता करने पहुंची पुलिस से परिजन भीड़ गए और तीनों पक्षों में जमकर मारपीट हुई।

इस दौरान मरीज के परिजन ने शिव नगर मंडी थाने के आरक्षक आशुतोष नागर पर भी हमला किया। जहां नागर के सिर पर चोट आने के बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जानकारी के मुताबिक पुलिसकर्मी के सिर पर चार टांके पड़े हैं। बता दें कि शनिवार देर रात उज्जैन के आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज के अस्पताल में विवाद की स्थिति उत्पन्न हो गयी। जहां परिजनों द्वारा जमकर हंगामा किया गया।

इस दौरान ऑडी गार्डी के डीन के राठौर ने कहा कि जिस वक्त यह हादसा हुआ उस वक्त वह अस्पताल में मौजूद नहीं थे। इतना ही नहीं डॉक्टर ने बताया कि पहले परिजनों द्वारा डॉक्टरों को पीटा गया। उसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस के साथ ही परिजनों ने मारपीट की।

Read More: सड़क हादसा: श्रमिकों से भरी यात्री बस पलटी, कई यात्री घायल, दिल्ली से पन्ना जा रहे थे मज़दूर

वही उज्जैन एसपी सत्येंद्र शुक्ला का कहना है कि पूरे घटनाक्रम की जांच की जा रही है और कुछ भी कहने से पहले सारे मामले की जांच करना आवश्यक है। उन्होंने बताया कि पूरे विवाद में एक पुलिसकर्मी घायल हुआ है।पुलिस के मुताबिक उज्जैन निवासी बंसी खंडेलवाल अस्पताल में भर्ती थे। जहां बीती रात उनका देहांत हो गया। वहीं उनके परिजनों द्वारा शनिवार को मृतक बंसीलाल खंडेलवाल की बॉडी लेने पहुंचे तो उनके सिर से खून बह रहा था।

जिसके बाद परिजनों ने इस पर आपत्ति जताई। इस दौरान परिजनों ने पूछा कि कोरोना से निधन के बाद आखिर सर से खून क्यों जा रहा है। जिसमें डॉक्टर ने कहा कि वह गिर गए थे। जिससे उनका सर फट गया है। ऐसी स्थिति में परिजनों और डॉक्टरों के बीच विवाद की स्थिति उत्पन्न हो गई। जहां परिजनों ने जमकर हंगामा किया और मारपीट शुरू कर दी।