कैलाश विजयवर्गीय को सज्जन सिंह वर्मा की नसीहत- बड़े नामों पर जुमले करके ना करें राजनीति

इसके साथ ही सज्जन सिंह वर्मा ने कैलाश विजयवर्गीय को नसीहत देते हुए कहा है कि दूसरे पर जुमले उछलने से अच्छा है कि खुद के बलबूते राजनीति करो। कांग्रेस नेता सज्जन सिंह वर्मा ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी मध्यप्रदेश इकाई में कैलाश विजयवर्गीय हाशिए पर आ गए हैं।

सज्जन सिंह वर्मा

देवास, डेस्क रिपोर्ट। आगामी उपचुनाव(by election) को देखते हुए मध्य प्रदेश(madhya pradesh) में शब्द बाणों का तीखा हमला जारी है। नेता लगातार मर्यादा का उल्लंघन करते हुए विपक्षी पार्टियों पर निशाना साध रहे हैं। इसी बीच अब कैलाश विजयवर्गीय(kailash vijayvargiya) के बयान पर कांग्रेस नेता और पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा(sajjan singh verma) ने पलटवार किया है। सज्जन सिंह वर्मा ने कहा कि दशहरा आते-आते कैलाश विजवर्गीय का चेहरा रावण जैसा दिखने लग जाता है। इसके साथ ही साथ उन्होंने कैलाश विजयवर्गीय को नसीहत दी है कि दूसरे पर जुमले उछालने से अच्छा है कि अपने बाजुओं मे ताकत लाए और राजनीति करें।

दरअसल देवास में सवालों के जवाब में सज्जन सिंह वर्मा ने कहा के दिग्विजय सिंह को चुन्नू मुन्नू कहने वाले कैलाश विजयवर्गीय का चेहरा दशहरा आते आते ही रावण जैसा दिखने लगता है। उनके नाक पकौड़े जैसी हो जाती है और आंख पपोटे जैसे हो जाते हैं। वहीं उन्होंने कटाक्ष किया है कि जैसे विजयवर्गीय ने प्यार से बोला था। वैसे ही वह भी प्यार से बोल रहे हैं। इसके साथ ही सज्जन सिंह वर्मा ने कैलाश विजयवर्गीय को नसीहत देते हुए कहा है कि दूसरे पर जुमले उछलने से अच्छा है कि खुद के बलबूते राजनीति करो। कांग्रेस नेता सज्जन सिंह वर्मा ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी मध्यप्रदेश इकाई में कैलाश विजयवर्गीय हाशिए पर आ गए हैं। प्रदेश में इनको कोई नहीं पूछ रहा है। जिसके बाद इनका काम सिर्फ जुमले उछालना रह गया है।

कैलाश विजवर्गीय पर तंज कसते हुए सज्जन सिंह वर्मा ने कहा कि कमलनाथ सीनियर लीडर है। 9 बार सांसद रह चुके है। कैलाश विजयवर्गीय 10 जन्म भी ले लें तो भी 9 बार सांसद नहीं बन सकते। वर्मा ने कहा कि बड़े लोगों के खिलाफ जुमले उछाल कर लाइमलाइट में बने रहना। इसको नेतागिरी नहीं कहा जाता।

ये भी पढ़े: पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने साधा सीएम शिवराज पर निशाना, कहा- लिए गए कर्ज की जनता को दें जानकारी

लोगों की मौत निश्चित रूप से बड़ी घटना- सज्जन सिंह वर्मा

दूसरी तरफ उज्जैन में जहरीली शराब पीने से हुई मजदूरों की मौत पर बोलते हुए सज्जन सिंह वर्मा ने कहा कि 9 लोगों की मौत निश्चित रूप से बड़ी घटना है। बीजेपी ने छल कपट और खरीद-फरोख्त से सरकार तो बना ली लेकिन जब से यह सरकार बनी है। ज्योतिरादित्य सिंधिया भू माफिया, शिवराज सिंह चौहान रेत माफिया और तीसरा शराब माफिया में तेजी से उछाल मिला है।

शिवराज पर निशाना

वहीं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर कटाक्ष करते हुए सज्जन सिंह वर्मा ने कहा कि उन्हें घड़ियाली आंसू बहाने की आदत है। सीएम को फोरन जाना चाहिए, यह पता करना चाहिए कि कैसे शराब माफिया पनप रहे हैं ।कमलनाथ जी ने अपने शासनकाल में बार डांस की संस्कृति को नेस्तनाबूद किया था। रेत माफिया और भूमाफिया को जेल की सलाखों के पीछे भेजा था लेकिन शिव राज में एक बार फिर से ये सब देखने को मिल रहा है।वही शिवराज सिंह चौहान के मैं भी गरीब पर निशाना साधते हुए सज्जन सिंह वर्मा ने कहा कि जिनके घर में 15 साल में दो-दो नोट गिनने की मशीन मिली हो। वो भी गरीब बन रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here