उपचुनाव: कांग्रेस पहुंची चुनाव आयोग, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सहित मंत्रियों को लेकर की ये मांग

कांग्रेस ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के ओएसडी पर भी सरकारी खर्च पर बीजेपी का चुनाव प्रचार करने का आरोप लगाया है।

शिवरज सरकार

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya pradesh) में सियासी हलचल के बीच कांग्रेस (congress) एक बार फिर से चुनाव आयोग (Election commission) पहुंची है। कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) सरकारी खर्च पर इस उपचुनाव (By-Election) में बीजेपी (BJP) का चुनाव प्रचार कर रहे हैं। कांग्रेस ने चुनाव आयोग से मांग की है कि तत्काल कार्रवाई करते हुए शिवराज सिंह चौहान सहित सभी मंत्रियों के सोशल मीडिया अकाउंट (Social Media Account) को चुनाव खत्म होने तक रोक लगाई जाए।

दरअसल कांग्रेस ने शिकायत में कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सरकारी खर्च का दुरुपयोग कर रहे हैं। उनके द्वारा चुनाव प्रचार के लिए सरकारी तंत्र का इस्तेमाल किया जा रहा है। इसके साथ ही साथ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सहित उनके मंत्री द्वारा लगातार सोशल मीडिया अकाउंट में चुनाव प्रचार किया जा रहा है।

साथ ही साथ कांग्रेस ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के ओएसडी पर भी सरकारी खर्च पर बीजेपी का चुनाव प्रचार करने का आरोप लगाया है। जिसके बाद कांग्रेस ने निर्वाचन आयोग में शिकायत करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सहित सभी मंत्रियों के सोशल मीडिया अकाउंट बन्द रखने की मांग की है।

Read More: अजय सिंह का दावा- चंबल में सिंधिया समर्थक नहीं हारे तो राजनीति छोड़ दूंगा

कांग्रेस के चुनाव आयोग कार्य प्रभारी जेपी धनोपिया ने कहा कि मध्यप्रदेश सरकार न सिर्फ विभागीय पोर्टल पर अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनवा रही है बल्कि चुनावी भाषणों को भी वेबसाइट पर उपलब्ध कर रही है। वही धनोपिया ने कहा इस कार्य में मुख्यमंत्री के ओएसडी सोशल मीडिया के जरिए बीजेपी का प्रचार कर रहे हैं।

इतना ही नहीं वह खुलकर कांग्रेस उम्मीदवारों के विरुद्ध जानकारियां भी सोशल मीडिया के जरिए जनता तक पहुंचा रहे हैं। वहीं कांग्रेस ने चुनाव आयोग से तत्काल मामले को संज्ञान में लेते हुए कार्रवाई की मांग की है। साथ ही साथ चुनाव पूरे होने तक उनके सोशल मीडिया अकाउंट को बन्द करने की मांग की है।

शिवराज सिंह चौहान