जीतू पटवारी ने बताया- किस कांग्रेस विधायक से कमलनाथ ने कहा था “चलो- चलो”

कांग्रेस छोड़ने वाले पूर्व विधायक बार बार कहते रहे है कि कमलनाथ के पास में उनकी समस्याएं सुनने के लिए समय ही नहीं था और वे जब भी उनसे मिलने वल्लभ भवन जाते थे तो कमलनाथ 2 मिनट की मुलाकात के बाद कह देते थे "चलो -चलो",

jitu patwari

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट| मध्य प्रदेश (madhya प्रदेश) में 28 सीटों के लिए उपचुनाव (byelection) का जोर शबाब पर है और कांग्रेस (Congress) का दामन छोड़कर बीजेपी (BJP) के टिकट पर चुनाव लड़ने वाले पूर्व विधायक हर विधानसभा क्षेत्र में प्रचार के दौरान मंच से इस बात को जरूर कह रहे हैं कि वे कमलनाथ सरकार (Kamalnath Government) के भ्रष्टाचार (Corruption) के चलते कांग्रेस छोड़ बीजेपी का दामन थामने पर मजबूर हुए।

यह पूर्व विधायक पार्टी छोड़ने के साथ ही यह कहते रहे हैं कि कमलनाथ के पास में उनकी समस्याएं सुनने के लिए समय ही नहीं था और वे जब भी उनसे मिलने वल्लभ भवन जाते थे तो कमलनाथ 2 मिनट की मुलाकात के बाद कह देते थे “चलो -चलो”। यह “चलो -चलो” जुमला इस कदर प्रसिद्ध हो गया है कि कमलनाथ के खिलाफ बीजेपी ने इसे एक पंच लाइन ही बना लिया है। लेकिन इन दिनों जीतू पटवारी का, जो पूर्व मंत्री कमलनाथ सरकार में रहे हैं, एक वीडियो वायरल हो रहा है जो सुवासरा क्षेत्र में जनसभा के दौरान का है और उस दौरान वे कह रहे हैं कि कमलनाथ ने तत्कालीन कांग्रेस विधायक हरदीप सिंह डंग (Hardeep Singh Dung) से कहा था “चलो-चलो” ।

जनसभा में पूरा वाक्या बताते हुए जीतू पटवारी ने कहा कि मंदसौर में उस समय कुणाल चौधरी के भाई हितेश चौधरी एसपी हुआ करते थे और वे कमलनाथ सरकार की एंटी माफिया मुहिम को तेजी के साथ चला रहे थे। इसी बीच जीतू पटवारी से हरदीप सिंह डंग ने शिकायत की कि एसपी उनका कहना नहीं मानते।इस पर जीतू ने डंग को आश्वासन दिया कि वे उनका कहना मानेंगे। उसके बाद जब जीतू ने एसपी से पूछा कि आखिर क्या ऐसी वजह है जिसकी वजह से वह डंग को नजरअंदाज करते हैं तब एसपी ने बताया कि वह माफियाओं के पक्ष में ऐसी बातें करते हैं जिन्हें माना जाना संभव नहीं है और यह सरकार की मंशा के खिलाफ है। इसके बाद जब कमलनाथ को भी इस बात की जानकारी मिली और जब डंग उनसे मिलने गए और एसपी की शिकायत की तब कमलनाथ ने डंग से कहा “चलो-चलो”।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here