बुरहानपुर जिले में 77 फीसदी से ज्यादा हुआ मतदान, दोनों विधानसभाओं में शांतिपूर्ण रहा चुनाव

Shashank Baranwal
Published on -
MP Election 2023

MP Election 2023: मध्यप्रदेश में आज 17 नवंबर को विधानसभा चुनाव पूरा हुआ। बुरहानपुर जिले की दोनों विधानसभाओं सीटों पर मतदाताओं ने उत्साह के साथ मतदान किया। मतदान केन्दों पर शाम तक लंबी लंबी कतारे देखी गई। बता दें बुरहानपुर जिले में कुल 77.12 फीसदी मतदान हुआ। जिसमें बुरहानपुर विधानसभा सीट पर 76.32 फीसदी वहीं नेपानगर विधानसभा सीट पर कुल 78.09 फीसदी मतदाताओं ने मतदान किया।

जिले में कुल 4 लाख 49 हजार 546 मतदाताओं ने किया वोट

सुबह 7 बजे से शाम 6 बजे तक लोगो ने अपने अपने मताधिकार का उपयोग किया। बुरहानपुर विधानसभा 180 में कुल 2 लाख 44 हज़ार 385 लोगो ने मतदान किया। जिसमें पुरुष मतदाता 1 लाख 28 हज़ार 199, महिला मतदाता 1 लाख 16 हज़ार 180 और अन्य 6 लोगो ने अपने मत का उपयोग किया। वहीं नेपानगर विधानसभा 179 में कुल 2 लाख 5 हजार 161 लोगों ने मतदान किया। जिसमें पुरुष मतदाता 1 लाख 55 हजार 557, महिला मतदाता 99 हजार 602 और 2 अन्य मतदाताओं ने अपने मत का उपयोग किया। वहीं दोनों विधानसभाओं को मिलाकर कुल 4 लाख 49 हजार 546 मतदाताओं ने अपने मत का उपयोग किया।

बुरहानपुर

दोनों दलों में टिकट को लेकर हुआ विरोध

बुरहानपुर में जहां इस बार कांग्रेस ने निर्दलीय विधायक सुरेंद्र सिंह शेरा को टिकिट देकर मैदान में उतरा है। वहीं बीजेपी ने पूर्व मंत्री अर्चना चिटनीस को मैदान में उतरा है। दोनों ही राष्ट्रीय दलों में टिकिट को लेकर विरोध के बाद बीजेपी के कद्दावर नेता नंदकुमार सिंह चौहान के पुत्र हर्षवर्धन सिंह ने निर्दलीय चुनाव लड़ा। जबकि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता नफीस मंशा खान ने एमआईएमआईएम से चुनाव लड़ा।

उम्मीदवारों को उठाना पड़ सकता है नुकसान

दोनों ही उम्मीदवारों को इसका काफी नुकसान उठाना पड़ सकता है। जिस तरह से वोटर अब तक शांत था। जिसके चलते कुछ भी कहना जल्द बाजी होगी कि इस बार बुरहानपुर विधानसभा से कौन सा उमीदवार जीत रहा है। बहरहाल मतदाताओं ने अपने अपने फैसले वोट करके EVM में कैद कर दिये है। जिसका फैसला 3 दिसबंर को देखने को मिलेगा।

बुरहानपुर से शेख रईस की रिपोर्ट


About Author
Shashank Baranwal

Shashank Baranwal

पत्रकारिता उन चुनिंदा पेशों में से है जो समाज को सार्थक रूप देने में सक्षम है। पत्रकार जितना ज्यादा अपने काम के प्रति ईमानदार होगा पत्रकारिता उतनी ही ज्यादा प्रखर और प्रभावकारी होगी। पत्रकारिता एक ऐसा क्षेत्र है जिसके जरिये हम मज़लूमों, शोषितों या वो लोग जो हाशिये पर है उनकी आवाज आसानी से उठा सकते हैं। पत्रकार समाज मे उतनी ही अहम भूमिका निभाता है जितना एक साहित्यकार, समाज विचारक। ये तीनों ही पुराने पूर्वाग्रह को तोड़ते हैं और अवचेतन समाज में चेतना जागृत करने का काम करते हैं। मशहूर शायर अकबर इलाहाबादी ने अपने इस शेर में बहुत सही तरीके से पत्रकारिता की भूमिका की बात कही है– खींचो न कमानों को न तलवार निकालो जब तोप मुक़ाबिल हो तो अख़बार निकालो मैं भी एक कलम का सिपाही हूँ और पत्रकारिता से जुड़ा हुआ हूँ। मुझे साहित्य में भी रुचि है । मैं एक समतामूलक समाज बनाने के लिये तत्पर हूँ।

Other Latest News