भाजपा

बड़वानी, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (madhhya pradesh) में आगामी नगर निकाय चुनाव (Municipal elections) से पहले ही भाजपा (BJP) को बड़ा झटका लगा है। जहां नगर परिषद पानसेमल (City council pansemal) के 9 पार्षदों ने अपनी पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। जानकारी के मुताबिक वार्ड के कार्य से संतुष्ट न होने के कारण पार्षदों में नाराजगी थी और इस बात के लिए उन्होंने इस्तीफा (Resignation) दिया है।

दरअसल मामला बड़वानी जिले का है। जहां पानसेमल नगर परिषद के 9 भाजपा पार्षदों ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया। आधा दर्जन से अधिक भाजपाई पार्षदों द्वारा इस्तीफा दिए जाने पर नगर परिषद में हड़कंप की स्थिति मच गई है। बताया जा रहा है कि कार्य में हो रही उपेक्षा को देखते हुए पानसेमल नगर परिषद के 9 भाजपाई पार्षदों ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया। सभी पार्षदों ने मंडल अध्यक्ष सचिन चौहान (sachin chauhan) को अपना इस्तीफा सौंपा।

वही मीडिया को जानकारी देते हुए असंतुष्ट पार्षदों ने बताया कि उनके वार्ड में लगातार कार्य में लापरवाही देखी जा रही थी। उनके द्वारा बहुत समय पहले से वार्डों के विकास के लिए अलग-अलग तरह की मांग की जा रही थी। जिसका निराकरण नहीं किया जा रहा था। इसके अलावा पार्षदों ने बताया कि नगर परिषद द्वारा जो कार्य किए जा रहे थे। उनकी सूचना भी नगर पार्षदों को नहीं दी जा रही थी।

Read More: नगर निकाय चुनाव 2021: तो क्या प्रदेश में फिर टाले जाएंगे निकाय चुनाव, ये है कारण

पार्षदों ने कहा कि उच्च स्तरीय बैठक में उनका बहिष्कार किया जा रहा है। उन्हें किसी बात की सूचना नहीं दी जा रही है। उनका तिरस्कार किया जा रहा है। इस्तीफा देने वाले पार्षदों ने दावा किया है कि 14 पार्षद भारतीय जनता पार्टी के हैं। जिनमें जो लोग अभी शहर से बाहर हैं। उन्होंने भी इस्तीफा देने का मन बनाया हुआ है।

इस मामले में मंडल अध्यक्ष सचिन चौहान का कहना है कि संगठन का मामला है और इस मामले में चर्चा के बाद चीजें पूरी तरह से स्पष्ट हो जाएंगी। ज्ञात हो कि नगर परिषद में कुल 15 पार्षद हैं। जिसमें से 14 पार्षद भाजपा के हैं। इन 14 पार्षदों में से 9 पार्षदों ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है।