कर्मचारियों के लिए खुशखबरी! 5% तक बढ़ सकता है महंगाई भत्ता, AICPI आंकड़े जारी, एरियर भी मिलेगा

यदि किसी कर्मचारी का 18 हजार के मूल वेतन है तो कर्मचारियों के दो माह के एरियर के भुगतान की बात करें तो यह 19,346 रुपए प्रति माह होगा।

6th pay commission

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। केंद्रीय कर्मचारियों ( Central Government employees DA Hike) के लिए बड़ी खुशखबरी है। AICPI-IW Index के जून 2022 के आंकड़े जारी कर दिए गए है, मार्च, अप्रैल और मई  के बाद इस महीने में भी 2 अंक की बढ़ोतरी देखी गई है, यह 129.2 पर पहुंच गया है, ऐसे में अगस्त में केन्द्रीय कर्मचारियों का 4% से 5% तक महंगाई भत्ता तक बढ़ना तय माना जा रहा है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अगले महीने होने वाली कैबिनेट बैठक में नए डीए पर मुहर लगाई जा सकती है। इससे सैलरी में 50 हजार से 2 लाख तक उछाल आएगा।हालांकि सरकार की तरफ से कोई पुष्टी नहीं की गई है।

यह भी पढ़े.. CG Weather: जल्द बदलेगा मौसम, आज इन जिलों में बारिश के आसार, जानें मौसम विभाग का पूर्वानुमान

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, जून के अंक में तेजी आने के बाद संभावना बढ़ गई है कि अगस्त में 4 से 5% तक डीए में इजाफा हो सकता है।केंद्रीय कर्मचारियों को फिलहाल महंगाई भत्ता 34 प्रतिशत है, केंद्र सरकार यदि 4/5 फीसदी भी महंगाई भत्ता बढ़ाती है तो 38/39 फीसदी महंगाई भत्ता मिलने की संभावना जताई है। इसके साथ 2 महीने का एरियर भी मिलेगा। सरकार के फैसले से करीब 50 लाख से ज्यादा केंद्रीय कर्मचारियों और 65 लाख से ज्यादा पेंशनभोगियों को लाभ होगा। महंगाई भत्ता बढ़ाने का फैसला 1 जुलाई 2022 से प्रभावी होगा।

यह भी पढ़े.. MP: रविवार को रीवा से चलेगी नई स्पेशल ट्रेन, अगस्त में चलेगी 17 स्पेशल ट्रेनें, इनके फेरे भी बढ़े, देखें शेड्यूल-रूट

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, यदि किसी कर्मचारी का 18 हजार के मूल वेतन है तो कर्मचारियों के दो माह के एरियर के भुगतान की बात करें तो यह 19,346 रुपए प्रति माह होगा।चुंकी साल में दो बार महंगाई भत्ता All India Consumer price Index-IW के आधार पर बढ़ता है, पहली छमाही की बढ़ोतरी हो चुकी है और अब दूसरी अगस्त में होना है, ऐसे में संभावना जताई जा रही है कि अगस्त के पहले सप्ताह में होने वाली कैबिनेट बैठक में मोदी सरकार द्वारा कर्मचारियों को नए डीए का तोहफा दिया जा सकता है।

जून के AICPI Index पर एक नजर

  • श्रम ब्यूरो, श्रम एवं रोज़गार मंत्रालय  द्वारा जून 2022 का अखिल भारत उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (औद्योगिक श्रमिक) 0.2 अंक बढ़कर 129.2 अंकों के स्तर पर संकलित हुआ।
  • सूचकांक में पिछले माह की तुलना में 0.16 प्रतिशत की वृद्धि रही जबकि एक वर्ष पूर्व इन्हीं दो महीनों के बीच 0.91 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई थी।
  • केंद्र-स्तर पर पुडुचेरी के सूचकांक में अधिकतम 2.6 अंक की वृद्धि रही जिसके पश्चात अमृतसर और त्रिपुरा में क्रमश: 2.2 एवं 2.0 अंक की वृद्धि दर्ज की गई। अन्य 15 केंद्रों में 1 से 1.9 अंक, 33 केंद्रों में 0.1 से 0.9 अंक के बीच वृद्धि रही।
  • इसके विपरीत संगरूर में अधिकतम 2.4 अंक की कमी रही | अन्य 5 केंद्रों में 1 से 1.9, 25 केंद्रों में 0.1 से 0.9 तक की कमी दर्ज की गई | शेष 6 केंद्रों के सूचकांक स्थिर रहे।
  • जून 2022 के लिए मुद्रास्फीति दर पिछले महीने के 6.97 प्रतिशत तथा गत वर्ष के इसी माह के 5.57 प्रतिशत की तुलना में 6.16 प्रतिशत रहा।
  • खाद्य-स्फीति दर पिछले माह के 7.92 प्रतिशत एवं एक वर्ष पूर्व इसी माह के 5.61 प्रतिशत की तुलना में 6.73 प्रतिशत रहा।

4% DA Hike सैलरी कैलकुलेशन

  •  महंगाई भत्ते की गणना महंगाई भत्ता प्रतिशत = ((पिछले 12 महीनों के लिए अखिल भारतीय उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (आधार वर्ष 2001=100) का औसत –115.76)/115.76)x100 फॉर्मूले से की जाती है।
  • 7th Pay Commission के तहत अगर किसी कर्मचारी की न्यूनतम बेसिक सैलरी 18,000 रुपए है और DA 38% को इस हिसाब से सालाना DAमें कुल इजाफा 6840 रुपए में होगा।
  • मतलब मौजूदा महंगाई भत्ते के मुकाबले 720 रुपए हर महीने बढ़ेंगे। कुल मिलाकर 18000 रुपए बेसिक सैलरी वाले केंद्रीय कर्मचारियों को सालाना 8640 रुपए ज्यादा DA मिलेगा।
  • अगर अधिकतम बेसिक सैलरी 56,900 रुपए पर देखें तो सालाना महंगाई भत्ते में कुल इजाफा 27312 रुपए होगा। मतलब मौजूदा DA के मुकाबले 2276 रुपए हर महीने बढ़ेंगे। उनका कुल सालाना DA 2 लाख 59 हजार 464 रुपए पहुंच जाएगा।

यह आंकड़े उदाहरण के तौर पर दर्शाए गए है, इसमें बदलाव हो सकता है।