युवाओं के लिए खुशखबरी, अब सरकारी नौकरी के लिए होगा एक टेस्ट

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट

देश में नई शिक्षा नीति के बाद अब केंद्रीय कैबिनेट ने आज एक अहम फैसला लिया है। अब देश में सरकारी नौकरियों के लिए एक ही कॉमन टेस्‍ट होगा। युवाओं को सरकारी भर्तियों के लिए अलग अलग टेस्ट देना होते थे, अब नौकरी के लिए एक ही परीक्षा होगी। राष्ट्रीय भर्ती संस्था (National Recruitment Agency) कॉमन एलिजिबिलिटी टेस्ट (Common Eligibility Test) लेगी जिसका करोड़ों युवाओं को फायदा मिलेगा।

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Union Minister Prakash Javdekar) ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि कैबिनेट की बैठक में ऐतिहासिक फैसले लिए गए हैं। प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि नौकरी के लिए युवाओं को बहुत से टेस्ट देने होते हैं। इसे समाप्त करने के लिए एक ऐतिहासिक फैसला लिया है। राष्ट्रीय भर्ती संस्था कॉमन एलिजिबिलिटी टेस्ट लेगी जिसका करोड़ों युवाओं को फायदा मिलेगा। जो नौकरी के लिए आवेदन करते हैं|

कॉमन एंट्रेंस टेस्ट (सीईटी) की मेरिट लिस्ट 3 साल तक मान्य रहेगी| इस दौरान उम्मीदवार अपनी योग्यता और पसंद के आधार पर विभिन्न क्षेत्रों में नौकरियों के लिए आवेदन कर सकेगा| केंद्र सरकार के सचिव सी चंद्रमौली ने इस फैसले पर कहा कि केंद्र सरकार में लगभग 20 से अधिक भर्ती एजेंसियां हैं। यद्यपि हम अब तक केवल तीन एजेंसियों के परीक्षाओं को सामान्य बना रहे हैं, लेकिन समय के साथ हम भविष्‍य में सभी भर्ती एजेंसियों के लिए सामान्य पात्रता परीक्षा (Common Eligibility Test) कराएंगे।