फरवरी के बाद अब जाकर GST कलेक्शन 1 लाख करोड़ के पार, इकॉनामी में सुधार के संकेत

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। वस्तु एवं सेवा कर (GST) संग्रह का आंकड़ा अक्टूबर में 1.05 लाख करोड़ रुपये रहा है। फरवरी 2020 के बाद पहली बार जीएसटी संग्रह का आंकड़ा एक लाख करोड़ रुपये पार  कर गया है। वित्त मंत्रालय की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक 31 अक्टूबर, 2020 तक दाखिल किए गए कुल जीएसटीआर-3बी रिटर्न की संख्या 80 लाख पर पहुंच गई है।

वित्त मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि अक्टूबर, 2020 में कुल जीएसटी संग्रह 1,05,155 करोड़ रुपये रहा. इसमें सीजीएसटी का हिस्सा 19,193 करोड़ रुपये, एसजीएसटी का 5,411 करोड़ रुपये, आईजीएसटी का 52,540 करोड़ रुपये (इसमें वस्तुओं के आयात पर 23,375 करोड़ रुपये का संग्रह भी शामिल है) और 8,011 करोड़ रुपये का उपकर (932 करोड़ रुपये आयातित वस्तुओं पर) शामिल है। इस साल कोविड-19 महामारी को लेकर लगाए गए लॉकडाउन की वजह से जीएसटी संग्रह का आंकड़ा लगातार कई माह तक एक लाख करोड़ रुपये के स्तर से नीचे रहा था। लेकिन अब करीब सात महीने बाद अक्टूबर में आए आंकड़े राहत देते हुए फॉर्मल इकॉनामी में सुधार के संकेत दे रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here