बड़ी खबर: 28 जुलाई को कैबिनेट विस्तार की अटकलें तेज, विधायकों को मिले ये निर्देश

इसके अलावा प्रदेश में लंबित बोर्डों, निगमों में नियुक्तियों के मुद्दे पर भी चर्चा हुई।

जयपुर, डेस्क रिपोर्ट। कांग्रेस (congress) में लगातार हो रही हलचल के बीच राजस्थान (rajasthan) से बड़ी खबर है। राजस्थान मंत्रिमंडल में जल्द फेरबदल देखने को मिलेगी। कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल (KC Venugopal) और पार्टी की राजस्थान इकाई के प्रभारी अजय माकन (ajay makan)  ने रविवार को पार्टी विधायक और प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सदस्यों से मुलाकात की है। सूत्रों की माने तो विधायकों को 28 तारीख को जयपुर में मौजूद देने के निर्देश दिए गए हैं। माना जा रहा है कि 28 जुलाई को राजस्थान कैबिनेट का विस्तार (rajasthan cabinet expansion) किया जा सकता है। वहीं दिल्ली रवाना होने से पहले आज केसी वेणुगोपाल और अजय माकन मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (ashok gehlot) से भी मुलाकात करेंगे।

इससे पहले खबर थी कि कांग्रेस रविवार को पार्टी विधायकों की बैठक बुलाएगी। हालांकि, पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट (sachin pilot) को बैठक के लिए नहीं बुलाए जाने पर हंगामे के बाद प्रदेश कांग्रेस इकाई के अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने स्पष्ट किया कि विधायकों की कोई निर्धारित बैठक नहीं थी। उन्होंने कहा कि विधायकों को केवल केसी वेणुगोपाल और अजय माकन के स्वागत समारोह के लिए बुलाया गया था।

Read More: आगामी विधानसभा चुनाव लड़ सकते हैं मुख्यमंत्री, इस सीट से दावेदारी पेश करने की तैयारी

शनिवार को केसी वेणुगोपाल और अजय माकन ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के साथ उनके आवास पर मैराथन बैठक की। बैठक में अशोक गहलोत ने कहा कि राज्य मंत्रिमंडल विस्तार का फैसला कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पार्टी आलाकमान पर छोड़ दिया गया है।केसी वेणुगोपाल और अजय माकन के साथ बैठक में अशोक गहलोत ने कैबिनेट विस्तार और फेरबदल के लिए सुलह फार्मूले पर चर्चा की। इसके अलावा प्रदेश में लंबित बोर्डों, निगमों में नियुक्तियों के मुद्दे पर भी चर्चा हुई।

यह बैठक उन खबरों के बीच हुई है कि सचिन पायलट के नेतृत्व वाला कांग्रेस गुट राज्य मंत्रिमंडल के विस्तार में लगातार हो रही देरी को लेकर पार्टी आलाकमान से खफा है। कैबिनेट में संभावित फेरबदल से पहले सचिन पायलट और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के करीबी नेताओं के बीच जुबानी जंग चल रही है।