नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव से पहले तृणमूल कांग्रेस (TMC) को बड़ा झटका लगा है। तृणमूल कांग्रेस  से राज्यसभा सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री दिनेश त्रिवेदी (Dinesh Trivedi) ने आज राज्यसभा में बजट पर चर्चा के दौरान अपने इस्तीफे की घोषणा कर दी। संभावना है कि दिनेश त्रिवेदी जल्द ही भारतीय जनता पार्टी (bjp) में शामिल हो सकते हैं।

मुझे घुटन हो रही है- त्रिवेदी

ममता बनर्जी (Mamta Banarjee) के करीबी माने जाने वाले दिनेश त्रिवेदी ने राज्यसभा में कार्यवाही के दौरान इस्तीफा दिया। उन्होने कहा कि “मुझ घुटन महसूस हो रही है। देश हित से ऊपर कुछ नहीं है। पार्टी हित और देश हित में से एक को चुनने का वक्त आ गया है। जिस प्रकार से पश्चिम बंगाल में हिंसा हो रही है, मुझे लगता है कि मैं करूं क्या। मेरी आत्मा मुझसे कह रही है कि मैं यहां बैठने के सिवा कुछ नहीं कर सकता तो इस्तीफा दे दूं। मैं बंगाल के लिए अपना इस्तीफा दे रहा हूं।” उनके द्वारा इस्तीफे के ऐलान के बाद राज्यसभा के उपसभापति ने कहा कि इसकी एक प्रक्रिया होती है। आप राज्यसभा के सभापति को इस बारे में लिखिए। बता दें कि इससे पहले शुभेंदु अधिकारी और राजीव बनर्जी ने ममता बनर्जी का साथ छोड़कर बीजेपी का दामन थाम लिया था। अब दिनेश त्रिवेदी के इस्तीफे से टीएमसी को एक और करारा झटका लगा है।

कैलाश विजयवर्गीय ने कहा- बीजेपी में स्वागत

इस इस्तीफे पर भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव और पश्चिम बंगाल के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने तंज कसते हुए कहा कि सिर्फ दिनेश त्रिवेदी ही नहीं, बल्कि कोई भी और सांसद या विधायक अगर ईमानदारी के साथ राज्य में करना चाहता है तो वो तृणमूल कांग्रेस में रूक ही नहीं सकता। इसी के साथ उन्होने कहा कि अगर दिनेश त्रिवेदी भारतीय जनता पार्टी ज्वाइन करना चाहते हैं, तो हम उनका स्वागत करते हैं।