BJD विधायक प्रदीप महारथी का निधन, कोरोना रिपोर्ट आई थी पॉजिटिव

सात बार के विधायक जांच में 14 सितंबर को कोविड-19 पॉजिटिव पाए गए थे। महारथी का शनिवार देर रात निधन हो गया। उन्हें एसयूएम अल्टीमेट मेडिकेयर में भर्ती कराया गया था। हालत गंभीर होने के कारण वह शुक्रवार से वेंटिलेटर सपोर्ट पर थे।

भुवनेश्वर, डेस्क रिपोर्ट। कोरोना संकटकाल (Corona crisis) के बीच एक और विधायक (MLA) जिंदगी की जंग हार गए है। अब BJD के विधायक प्रदीप महारथी (MLA Pradeep Maharathi) का निधन हो गया। महारथी 14 सितंबर को कोविड​​-19 से संक्रमित पाए गए थे, जिसके बाद उन्हेंं आनन-फानन में अस्पताल में भर्ती करवाया गया था, लेकिV हाल ही में उन्हें स्वस्थ होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई थी, लेकिन शनिवार को हालत गंभीर होने पर उन्हें फिर से अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां इलाज के दौरान उनका निधन हो गया।महारथी के पार्थिव शरीर का पूरे राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया जाएगा। विधायक के निधन से पार्टी में शोक लहर दौड़ गई है। सीएम नवीन पटनायक ने भी उनके निधन पर शोक जताया है।

महारथी सात बार से पुरी जिले की पिपली विधान सभा सीट से विधायक चुने गए थे।महारथी ने अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत एससीएस कॉलेज, पुरी में एक छात्र नेता के रूप में की।वह 1985 में जनता पार्टी के टिकट पर पहली बार पिपिली विधानसभा क्षेत्र (Pipili Assembly Constituency) से ओडिशा विधानसभा के लिए चुने गए थे।अपने राजनीतिक जीवन के दौरान, उन्होंने पंचायती राज और पेयजल आपूर्ति, कृषि और मत्स्य पालन जैसे महत्वपूर्ण विभागों के मंत्री के रूप में काम किया।

मुख्यमंत्री नवीन पटनायक (Naveen Patnaik) ने महारथी को बीजू जनता दल के अहम नेता और बीजू बाबू के लंबे समय के सहयोगी के रूप में बताया। उन्होंने कहा कि उन्हें असाधारण संगठन क्षमता के लिए जाना जाता है, उन्होंने पिपिली से लगातार सात बार चुनाव जीता था। वे लोगों के सच्चे नेता थे। उन्होंने शोक संतप्त परिवार और पिपली के लोगों के प्रति अपनी गहरी संवेदना व्यक्त की है।