BJP नेता का कोरोना से निधन, अस्पताल ने थमाया 12 लाख का बिल, जमकर हंगामा

जीवन को करनपुर क्षेत्र में मामा के नाम से पुकारा जाता था, उनके आकस्मिक निधन से भाजपा कार्यकर्ताओं में भी शोक की लहर है।

देहरादून, डेस्क रिपोर्ट। एक तरफ जहां देश में कोरोना संक्रमितों (Corona infected) की संख्या 79 लाख के पार हो गई है और अबतक 1 लाख से ज्यादा की मौत हो चुकी है वही दूसरी तरफ नेताओं के निधन की खबरें लगातार सामने आ रही है। अब पूर्व पार्षद और BJP नेता सरदार जीवन सिंह (Jeevan Singh) का कोरोना से निधन हो गया है। वे 56 वर्ष थे और मसूरी रोड स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती थे।

दरअसल, 6 अक्टूबर को सरदार जीवन सिंह की तबीयत बिगड़ने पर उन्हें मैक्स हॉस्पिटल में भर्ती कराया था। जांच के बाद उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी, यही उनका इलाज चल रहा था। रविवार को अचानक उनकी तबीयत ज्यादा बिगड़ गई,  इस पर डॉक्टरों ने उन्हें वेंटिलेटर पर रखकर उपचार देना शुरू किया, लेकिन रविवार दोपहर में उनका निधन हो गया। वे अपने पीछे बुजुर्ग माता, पत्नी, तीन बेटे और एक बेटी को छोड़ गए।

हैरानी की बात तो ये है कि उनके निधन के बाद स्वजनों को शव न सौंपने के चलते अस्पताल में हंगामा भी हुआ। अस्पताल ने 12 लाख रुपए का बिल दिए बिना शव ले जाने पर भी इंकार कर दिया था। इसके बाद राजपुर से विधायक खजानदास (MLA Khazanadas) और मसूरी विधायक गणेश जोशी (MLA Ganesh Joshi) के पार्षदों के पहुंचने पर अस्पताल ने शव सौंपा। उनका कहना था कि कोरोना के इलाज का 12 लाख का बिल काफी हैरान कर देने वाला है। अगर अस्पताल ने मनमानी की तो अस्पताल में तालाबंदी कर दी जाएगी।  हालांकि, अस्पताल (Hospital) की ओर से सभी आरोपों को नकार दिया गया है।

जीवन को करनपुर क्षेत्र में मामा के नाम से पुकारा जाता था, उनके आकस्मिक निधन से भाजपा कार्यकर्ताओं में भी शोक की लहर है। मसूरी विधायक गणेश जोशी, खजानदास, पार्षद भूपेंद्र कठैत समेत तमाम अन्य भाजपाइयों ने उनके निधन पर शोक जताया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here