लापरवाही ! वैक्सीन लगवाते समय युवक के हाथ में टूटी सुई, अब हाथ-पैर नहीं कर रहे काम

ललितपुर, डेस्क रिपोर्ट। उत्तर प्रदेश (Uttar pradesh) के ललितपुर (Lalitpur) में स्वास्थ्य विभाग द्वारा ऐसी लापरवाही का मामला सामने आया है जिसे पढ़कर आप हैरत में पड़ जाएंगे। यहां एक युवक के हांथ में वैक्सीन (Vaccine) लगवाते समय सुई (Needle) टूट गई जिसके कारण युवक की हालत बिगड़ गई। जब वह घर लौटा तो दो दिन के बाद उसकी तबीयत इतनी खराब हो गई के उसके हाथ में फफोले पड़ने लगे और हाथ-पैर सुन्न हो गए। जब असहनीय दर्द हुआ तो उसके परिजनों ने उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया जिसके बाद ऑपरेशन कर उसके हांथ से सुई तो निकाल दी लेकिन मरीज का दायां हाथ और पैर सुन्न हो गया है। फिलहाल मरीज को मेडिकल कॉलेज झांसी के लिए रेफर किया गया है।

ये भी पढ़ें- श्राद्ध का खाना बनाते वक्त घर में लगी आग, 2 महिलाएं घायल

जानकारी के अनुसार मामला थाना बानपुर के ग्राम बनौनी का है। बताया जा रहा है कि बानौनी गांव के रहनेवाले 22 वर्षीय इंद्रेश ने 9 सितंबर को गांव के ही एक विद्यालय में आयोजित कैम्प में कोविड वैक्सीन लगवाई थी। उसके अगले दिन उसे बुखार आया। इंद्रेश ने इसपर गौर नहीं किया और सोचा कि वैक्सीनेशन के बाद बॉडी का टेम्परेचर सामान्य से कुछ बढ़ ही जाता है, इसलिए ये भी सामान्य होगा। लेकिन जब उसे वैक्सीन लगवाने वाली जगह पर फोले पड़ने लगे तो वह घबरा गया और इलाज कराने प्राइवेट हॉस्पिटल गया। निजी डॉक्टर से इलाज कराने के बाद भी हालत में सुधार नहीं हुआ और उसने बताया कि धीरे-धीरे उसके हाथ-पैर सुन्न पड़ गए।

ये भी पढ़ें- गाय को हटाने गए युवक को तेज रफ्तार ट्रक ने मारी टक्कर, मौत

मामले पर 13 सितंबर को जब डॉक्टर ने मरीज का परीक्षण किया तो पता चला कि उसके हाथ में इंजेक्शन की निडिल रह गई है। सीटी स्कैन में भी हाथ मे सुई फंसी दिखाई दी। सीटी स्कैन और एक्स-रे की रिपोर्ट आने के बाद सर्जन ने 18 सितंबर को मरीज के हाथ मे फंसी सुई निकाल दी। वहीं करीब एक घण्टे के ऑपरेशन के बाद मरीज को राहत तो मिली, लेकिन उसका दायां हाथ और एक पैर काम नहीं कर रहा है। डॉक्टरों ने उसे मेडिकल कॉलेज झांसी के लिए रेफर कर दिया है।