BJP मंत्री का विवादित बयान- चिकन-मटन से ज्यादा खाएं बीफ, कानून से ना डरे

शिलांग, डेस्क रिपोर्ट। देश में एक तरफ BJP गौ हत्या (cow killing) के खिलाफ सख्त कानून (law) और सजा की बात करती है। वहीं दूसरी तरफ Meghalaya में BJP Cabinet के नेता राज्य के लोगों को कानून से ना डरने और जमकर बीफ (beeF) खाने के लिए प्रोत्साहित कर रहे हैं। दरअसल मेघालय में BJP कैबिनेट के नेता सनबोर शुल्लई (sanbor shullai) ने राज्य के लोगों से कहा है कि वह किसी कानून से ना डरे और जमकर बीफ का लुफ्त उठाएं। तीन बार के विधायक रहे और BJP Minister शुल्लई ने कहा कि भारत एक लोकतांत्रिक देश है और यहां कोई भी अपनी मर्जी से कुछ भी खा सकता है।

हालांकि शुल्लई से जब पूछा गया कि वह लोगों को गौ मांस खाने के लिए क्यों प्रोत्साहित कर रहे हैं तो उन्होंने कहा कि ऐसा करना इसलिए जरूरी है ताकि लोगों के अंदर से यह डर मिट जाएगा कि BJP कभी भी गौवध के खिलाफ कोई कानून लेकर आने वाली है।

BJP नेता और मेघालय के कैबिनेट मंत्री सनबोर शुल्लई ने शुक्रवार को कहा कि लोगों को “किसी भी अन्य मांस की तुलना में अधिक गोमांस खाने” के लिए प्रोत्साहित करने की आवश्यकता है। शुल्लई ने मीडियकर्मियों से कहा कि मैं लोगों को चिकन, मटन या मछली से ज्यादा बीफ खाने के लिए प्रोत्साहित करता हूं।

BJP मंत्री का विवादित बयान- चिकन-मटन से ज्यादा खाएं बीफ, कानून से ना डरे

Read More: Promotion नियम के विरोध में MP के अधिकारी-कर्मचारी! कर रहे ये विशेष तैयारी, जाने मामला

भाजपा नेता ने आगे कहा कि उनका मानना ​​है कि लोकतांत्रिक देश में लोग जो चाहें खाने के लिए स्वतंत्र हैं। इस बीच अभी-अभी पशुपालन और पशु चिकित्सा विभाग का कार्यभार सँभालने वाले शुलाई ने आश्वासन दिया कि वह असम (Assam) के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा (Himanta biswa Sarma) के साथ भी इस मुद्दे को उठाएंगे ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि मेघालय में मवेशी परिवहन पड़ोसी राज्य में पारित कानून से प्रभावित न हो। और प्रदेश में गौ हत्या पर कानून न बने।

हालांकि मेघालय सरकार के बीजेपी मंत्री शुल्लई के इस बयान के बाद लोगों में इस का अच्छा खासा विरोध देखा जा रहा है। वही बीजेपी मंत्री द्वारा दिया गया यह बयान बीजेपी के लिए कितना खतरनाक साबित होने वाला है। यह तो आने वाला वक्त ही बताएगा।