कोरोना वेरिएंट को मिले नाम, WHO ने भारत में मिले वायरस को कहा “डेल्टा” और “कप्पा

WHO ने अमेरिका में मार्च 2020 में मिले वेरिएंट बी.1.427 / बी.1.429 को एपलिसन नाम दिया है , वहीँ अप्रैल 2020 में ब्राजील में मिले पी.2 वेरिएंट को जीटा कहा गया है। 

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट।  विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के निर्देश के बाद भो कोरोना वेरिएंट को देशों के नाम के साथ जोड़कर बताया रहा था।  अब WHO ने एक नई व्यवस्था दी। WHO ने अब तक मिले कोरोना वेरिएंट का नामकरण कर दिया है।  ग्रीक एल्फाबेट के आधार पर किये गए नामकरण में भारत में मिले वेरिएंट को “डेल्टा” (Delta) और “कप्पा” (Kappa) कहा जाएगा।  अब कोई इन्हें इंडियन वेरिएंट (Indian Variant)नहीं कहेगा।

ये भी पढ़ें – जिस पिता के लिए बिहार की बेटी ज्योति ने चलाई थी 1200 किमी साइकल, उसने दुनिया को कहा अलविदा

भारत में मिले कोरोना वायरस को देश के नाम के साथ जोड़कर इंडियन वेरिएंट (Indian Variant) कहे जाने पर भारत ने कड़ी आपत्ति जताई थी। जिसके बाद अब भारत में मिले दो कोरोना वेरिएंट को नाम मिल गया है।  पहली बार भारत में पाए गए बी.1.617.1 को कप्पा और बी.1.617.2 को डेल्टा कहा जाएगा। जबकि ब्रिटेन में पाए गए वेरिएंट बी.1.1.7 को अल्फ़ा और दक्षिण अफ्रीका में पाए गए वेरिएंट बी.1.351 को बीटा नाम दिया गया है। वहीँ नवम्बर 2020 में सबसे पहले दक्षिण अफ्रीका में पाए गए वेरियें पी.1 को अब गामा नाम से जाना जाएगा।

WHO ने अमेरिका में मार्च 2020 में मिले वेरिएंट बी.1.427 / बी.1.429 को एपलिसन नाम दिया है , वहीँ अप्रैल 2020 में ब्राजील में मिले पी.2 वेरिएंट को जीटा कहा गया है।  WHO की तरफ से कहा गया है कि लोगों को समझने  में आसानी के लिए ये नामकरण किये गए हैं जो बोलचाल की भाषा में भी आसान होंगे।