वेतनमान पर गतिरोध बरकरार, कर्मचारियों को मिल सकता है भत्ते का लाभ, सीएम ने की पेशकश, मिलेगा लाभ!

Employees Allowances, Employees Benefit : कर्मचारियों के वेतनमान प्रगतिरोध के मामले बरकरार हैं। वहीं अप्रत्यक्ष सरकार द्वारा उन्हें अलग से भत्ते देने की तैयारी की जारी है। इससे पहले मुख्यमंत्री द्वारा बैठक की गई है लेकिन अब तक इस पर कोई सहमति नहीं बन पाई है। सीएम द्वारा कर्मचारियों को लोक से कुछ वेतन भत्ते देने की बात की गई है। जिस पर वित्त विभाग के अधिकारियों की रैली जाएगी। इतना ही नहीं उन्हें बेसिक वेतन देने का भी प्रसव दिया गया है।

लिपिक को अलग से कुछ भत्ते देने की बात

हरियाणा में लिपिक को द्वारा वेतनमान की मांग को लेकर हड़ताल की स्थिति निर्मित है। 37 दिन से चल रहे हड़ताल में मुख्यमंत्री द्वारा बैठक के बावजूद अब तक वेतनमान पर कोई निर्णय नहीं लिया गया है। मुख्यमंत्री ने बैठक में लिपिक को अलग से कुछ भत्ते देने की बात की है। इसके लिए वित्त विभाग के अधिकारियों से रैली जाएगी। इसके बाद इस पर विचार किया जा सकता है।

25000 बेसिक वेतन देने का प्रस्ताव 

इससे पहले हरियाणा सरकार द्वारा लिपिक को ₹25000 बेसिक वेतन देने का प्रस्ताव दिया गया था लेकिन लिपिक संगठन द्वारा अपनी मांग जारी रखी गई है। लिपिक संगठन की मांग है कि उन्हें 35400 वेतनमान दिया जाए। हालांकि मुख्यमंत्री ने स्पष्ट कहा है कि लिपिकों को ₹35400 वेतनमान नहीं दिया जा सकता है। सरकार ₹25000 बेसिक वेतन देने को तैयार है जो अन्य पड़ोसी राज्य में सबसे अधिक है।

सरकार कर सकती है वैकल्पिक व्यवस्था

लिपिक एसोसिएशन के पदाधिकारी अपनी मांग अड़े हुए हैं। यदि लिपिकों द्वारा कोई महत्वपूर्ण फैसला नहीं किया जाता है तो सरकार वैकल्पिक व्यवस्था कर सकती है। फिलहाल इन मुद्दों पर संशय की स्थिति बरकरार है। इस पर 16 या 17 अगस्त को एक बार फिर से बैठक में महत्वपूर्ण फैसला लिया जा सकता है। इससे पहले भी तीन बैठक आयोजित की जा चुकी है लेकिन अब तक इस पर कोई निष्कर्ष नहीं निकला है।


About Author
Kashish Trivedi

Kashish Trivedi

Other Latest News