कर्मचारियों के लिए बड़ी खुशखबरी, 6.47 करोड़ खातों में पैसा ट्रांसफर, ऐसे चेक करें बैलेंस

अबतक 6.47 करोड़ खाता धारकों के खातों में राशि ट्रांसफर की जा चुकी है।

कर्मचारियों

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट।  EPFO के 6 करोड़ से ज्यादा कर्मचारियों (EPFO Employees) को बड़ा तोहफा दिया है। EPFO ने वित्त वर्ष 2020-21 का ब्याज अंशधारकों के खाते में जमा करना शुरु कर दिया है।ताजा जानकारी के मुताबिक 6.47 करोड़ पीएफ खातों में 8.50 फीसदी ब्याज जमा किया गया है। इस संबंध में ईपीएफओ अगला अपडेट 15 नवंबर को देगा।इस संबंध में सभी खाता धारकों को मैसेज भेजे जा रहे है, अगर किसी के पास SMS नहीं पहुंचा है तो वे नीचे दिए गए स्टेप्स से चेक कर सकते है।

यह भी पढ़े…11 लाख कर्मचारियों के एक और भत्ते पर आई नई अपडेट, सैलरी में होगी इतनी बढ़ोतरी, देखें कैलकुलेशन

दरअसल, EPFO की ओर से हर साल PF पर ब्याज दिया जाता है। इस ब्याज की दर को केन्द्र सरकार तय करती है। इसके बाद पीएफ खाताधारकों के अकाउंट में ब्याज की रकम आती है। इस साल EPFO के सेंट्रल बोर्ड ने 8.5% ब्याज देने का फैसला किया है और इस पर फाइनेंस मिनिस्ट्री की मंजूरी दे दी है, जिसके बाद कर्मचारियों के खाते में राशि ट्रांसफर (Money Transfer) होना शुरु हो गई है। अबतक 6.47 करोड़ खाता धारकों के खातों में राशि ट्रांसफर की जा चुकी है। इस संबंध में नई अपडेट सोमवार 15 नवंबर 2021 को ईपीएफओ द्वारा ट्वीट करके दी जाएगी।

बता दे कि इस साल मार्च में EPFO बोर्ड ने फिस्कल ईयर 2021 के लिए 8.5% ब्याज का प्रस्ताव रखा था। इससे पहले फिस्कल ईयर में EPFO को 70,300 करोड़ रुपए की आमदनी हुई थी। इसमें 4000 करोड़ रुपए इक्विटी निवेश बेचने से हासिल हुआ था।EPFO 8.5% ब्याज दे रहा है जो दूसरी स्मॉल सेविंग्स के मुकाबले ज्यादा है। जनरल प्रोविडेंट फंड (GPF) और पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) पर 7.1% ब्याज मिलता है। जबकि नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट पर 6.8% का ब्याज मिल रहा है।

यह भी पढ़े…MP Corona: 1 हफ्ते में 50 से ज्यादा केस, फिर 11 नए पॉजिटिव, इन जिलों ने बढ़ाई टेंशन

गौरतलब है कि देश के 6 करोड़ से अधिक कर्मचारी द्वारा अपने वेतन (salary) की एक निश्चित राशि प्रोविडेंट फंड (PF Account) के रूप में जमा कराई जाती है।,  जिसके एवज में कर्मचारियों को हर साल रिवाइज में ब्याज दरों पर ब्याज दिया जाता है। 2020 में EPFO ने मार्च 2020 में PF ब्याज दर को घटाकर 8.5 फीसदी कर दिया था, जो पिछले सात वर्षों में यह सबसे कम है। वही वित्त वर्ष 2018-19 में ब्याज दर 8.65 फीसदी था, हालांकि वित्त वर्ष 2017-18 में यह महज 8.55 फीसदी ही था, जबकि वित्त वर्ष 2019-20 के लिए यह 8.5 फीसदी है।

मिस्डकॉल से चेक करें बैलेंस

आपके PF खाते में ब्याज की रकम आई है या नहीं, इसकी जानकारी के लिए मिस्डकॉल या SMS कर सकते हैं। आपको 011-22901406 पर मिस्ड कॉल देना होगा। इसके अलावा 7738299899 पर EPFOHO UAN ENG ( आखरी तीन अक्षर भाषा के लिए है) लिखकर भेजना होगा। अगर आपको हिंदी भाषा में जानकारी चाहिए तो EPFOHO UAN HIN लिखकर भेजना होगा। पीएफ बैलेंस जानने की यह सेवा दूसरी भाषाओं में भी है। मसलन, अंग्रेजी, पंजाबी, मराठी, हिंदी, कन्नड़, तेलगू, तमिल, मलयालम और बंगाली में भी जानकारी मिल जाएगी।

ऐसे भी चेक करें अपना बैलेंस

  • EPFO सब्सक्राइबर 7738299899 नंबर पर मैसेज भेजकर EPF अकाउंट का बैलेंस चेक कर सकते हैं।
  • इसके लिए “EPFOHO UAN ENG” लिखकर दिए गए मोबाइल नंबर पर भेज दें।
  • SMS मिलने पर ईपीएफओ बदले में आपको पीएफ खाते की शेष राशि की जानकारी भेजेगा।
  • EPFO धारक 011-22901406 नंबर पर मिस्ड कॉल देकर बैलेंस चेक कर सकते हैं।
  • इसके लिए ईपीएफओ सब्सक्राइबर का नंबर पीएफ अकाउंट से रजिस्टर्ड और EPFO ​​मेंबर को UAN, KYC डिटेल्स में लिंक होना चाहिए।
  • ईपीएफओ सब्सक्राइबर्स पोर्टल पर खुद को रजिस्टर करने के बाद, अपने यूएएन और पासवर्ड का उपयोग करके https://passbook.epfindia.gov.in/MemberPassBook/Login# पर लॉग इन भी अपनी पासबुक देख सकते हैं।
  • ईपीएफओ सदस्य ‘उमंग’ मोबाइल एप्लिकेशन के माध्यम से अपने खाते की शेष राशि और ईपीएफ विवरण देख सकते हैं।
  • इसके लिए कर्मचारी केंद्रित सेवाओं पर जाएं और पासबुक देखें पर क्लिक करें।
  • कर्मचारी भविष्य निधि में अपनी शेष राशि की जांच करने के लिए, आपको यूएएन दर्ज करना होगा और पंजीकृत मोबाइल नंबर पर भेजे गए ओटीपी को दर्ज करना होगा।