नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट| वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Finance) 1 फरवरी, सोमवार को संसद के पटल पर आम बजट (Budget 2021) पेश करने वाली है| कोरोना काल में बिगड़े हालातों के बाद सोमवार को पेश होने वाले बजट से आम आदमी, किसान, उद्योगपतियों से लेकर टैक्सपेयर्स तक सभी को कई उम्मीदें हैं| जानकारों का मानना है कि बजट में किसानों (Farmers) को लेकर बड़े ऐलान होंगे|

कृषि कानूनों के विरोध को लेकर चल रहे किसान आंदोलन के बीच सरकार बजट में किसानों को बड़ा तोहफा दे सकती है| केंद्र सरकार किसान क्रेडिट कार्ड की निर्धारित लोन की लिमिट को बढ़ा सकती है। सरकार किसानों के लिए कई स्कीम चला रही है| किसानों को साहूकारों और सूदखोरों के चंगुल में फंसने से बचाने के लिए और खेती के कार्य के लिए सस्ती दर ऋण उपलब्ध कराने के लिए किसान क्रेडिट कार्ड देती है। किसान क्रेडिट कार्ड के जरिए किसान को ऋण दिया जाता है।

सरकार इसकी लिमिट बढ़ाकर किसानों को खुश कर सकती है| किसान क्रेडिट कार्ड पर किसानों को बहुत ही कम ब्याज पर कर्ज आसानी से मिल जाता है| किसान क्रेडिट कार्ड के जरिए किसानों, पशुपालक और मछलीपालकों को कई तरह के लाभ मिलते हैं|

इसके अलावा भी किसानों के लिए बजट में ख़ास जगह होगी| माना जा रहा है कि केंद्र की मोदी सरकार वित्तीय वर्ष 2021-22 के बजट में कृषि क्षेत्र में लाभ बढ़ाने के लिए कई अहम ऐलान कर सकती है| पीएम किसान सम्मान निधि योजना की राशि भी बढ़ाई जा सकती है|