कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर, मिलेगा नियमितीकरण का लाभ, मुख्यमंत्री ने बैठक में दिए निर्देश, कैबिनेट उप-समिति का गठन

employees transfer

Employees News, Employees Regularization : कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर है। उन्हें नियमितीकरण का लाभ मिलेगा। इसके लिए मुख्यमंत्री द्वारा आदेश दिए गए थे। अब इस पर प्रक्रिया अपनाई जा रही है। वहीं आज बैठक में मुख्यमंत्री ने फिर से नियमितीकरण को लेकर तेजी से प्रक्रिया को पूरा करने के निर्देश दिए हैं। वही इसका लाभ हजारों कर्मचारियों को मिलेगा।

पंचायत सचिवों को किया जाएगा नियमित

तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने महत्वपूर्ण निर्देश दिए है। दरअसल 4 साल का प्रशिक्षण पूरा कर चुके पंचायत सचिवों को नियमित किया जाएगा। उनके नियमितीकरण के लिए जल्द प्रक्रिया अपनाने के निर्देश देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि ग्राम राजस्व सहायकों को उनके शैक्षणिक योग्यता और क्षमता के आधार पर अन्य विभागों में विलय के लिए भी कार्य शैली अपनाई जाए। सचिवालय में एक उच्च स्तरीय बैठक में यह निर्णय लिया गया है।

इन्हें मिलेगा लाभ 

बैठक में महत्वपूर्ण निर्देश दिए गए। जिसके तहत जो पंचायत सचिव अपने दिए गए लक्ष्य में से कम से कम दो तिहाई पूरा कर चुके हैं। उनके योग्यता के आधार पर उन्हें नियमितीकरण का लाभ दिया जाएगा। मुख्यमंत्री ने इस प्रक्रिया की निगरानी के लिए जिला स्तर पर समिति के गठन का निर्देश दिया है। मुख्य सचिव शांति कुमारी को पंचायत सचिवों के नियमितीकरण को लागू करने के लिए आवश्यक कदम उठाने के निर्देश देते हुए इसमें शीघ्रता करने की बात कही गई है।

कैबिनेट उपसमिति का गठन 

मामले में पंचायत राष्ट्रीय प्रमुख सचिव संदीप कुमार सुलतानिया सहित पंचायत राज आयुक्त हनुमंतराव द्वारा मुख्यमंत्री के आदेश के अनुसार इस पर पहले ही कार्य प्रगति शुरू कर दी गई है। विभिन्न विभागों के साथ ग्राम राजस्व सहायकों के सुचारू एकीकरण की सुविधा के लिए राज्य मंत्रियों के टी राम रौआ, जगदीश रेड्डी और सत्यवती राठौर के साथ एक कैबिनेट उपसमिति का गठन किया गया है। समिति 1 सप्ताह के भीतर विलय प्रक्रिया को सुव्यवस्थित करने की दिशा में कार्य को आगे बढ़ाएगी।

गांव में स्वास्थ्य एवं स्वास्थ्य कार्य की जिम्मेदारी भी पंचायत राज सचिवों को सौंपी गई है। वहीं कई पंचायतों को मिले राष्ट्रीय पुरस्कार के लिए सराहना व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री ने गांव में गुणवत्ता परिवर्तन के महत्व पर जोर दिया है और पंचायत सचिवों को अपने समर्पित कार्य जारी रखने के आग्रह किए गए हैं।


About Author
Kashish Trivedi

Kashish Trivedi

Other Latest News