Rajasthan Weather : मौसम का बदला मिजाज, बारिश ने कई जिलों में बढ़ाई ठंडक, 4 फरवरी तक इन संभागों में बारिश का अलर्ट, जानें IMD का पूर्वानुमान

मौसम विभाग के मुताबिक बीते 24 घंटों में पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से बीकानेर, गंगानगर, हनुमानगढ़, चुरु और झुन्झनू जिलों में कहीं-कहीं हल्की बारिश दर्ज की गई है। सबसे अधिक बारिश 5 मिमी हनुमानगढ़ में दर्ज हुई है। 

Rajasthan weather

Rajasthan Weather Update Today 1 February 2024 : 30 जनवरी की रात को एक्टिव हुए नए पश्चिमी विक्षोभ ने राजस्थान के मौसम को अचानक बदल दिया है, 31 जनवरी को कई जिलों में बारिश हुई जिसके कारण ठंडक बढ़ गई उधर आज गुरुवार को राजधानी जयपुर की सुबह भी बौछारों के साथ हुई, मौसम विभाग ने 2 से 4 के बीच प्रदेश के चार संभागों में बारिश का अलर्ट जारी किया है।

बौछारों के साथ हुई राजधानी जयपुर की सुबह 

राजस्थान मौसम विभाग ने अपडेट देते हुए बताया कि प्रदेश का मौसम अचानक पलट गया है। बीती रात 31 जनवरी को कई जिलों में बारिश हुई है। आज गुरुवार सुबह यानि 1 फरवरी को राजधानी जयपुर में कई स्थानों पर बौछारें गिरीं। मौसम विभाग का नया अलर्ट जारी करते हुए बताया कि 2 से 4 फरवरी के बीच राजस्थान के 4 संभाग में बारिश होगी, बादल गरजेंगे और आकाशीय बिजली चमकेगी।

सक्रिय होगा नया पश्चिमी विक्षोभ 

IMD ने बताया है कि राजस्थान में 2 से 4 फरवरी के बीच एक और नया पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होगा। जिसके प्रभाव से जयपुर, जोधपुर, बीकानेर और भरतपुर संभाग के कुछ जिलों में बारिश होगी, मौसम विभाग के मुताबिक बीते 24 घंटों में पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से बीकानेर, गंगानगर, हनुमानगढ़, चुरु और झुन्झनू जिलों में कहीं-कहीं हल्की बारिश दर्ज की गई है। सबसे अधिक बारिश 5 मिमी हनुमानगढ़ में दर्ज हुई है।

इन जिलों में ऐसा रहा न्यूनतम तापमान  

  • अलवर 7.8 डिग्री सेल्सियस
  • पिलानी 8.5 डिग्री सेल्सियस
  • चित्तौड़गढ़ 9.8 डिग्री सेल्सियस
  • सिरोही 10.2 डिग्री सेल्सियस
  • चूरू 10.5 डिग्री सेल्सियस
  • श्रीगंगानगर 10.5 डिग्री सेल्सियस
  • फतेहपुर सीकर 10.7 डिग्री सेल्सियस
  • करौली 11.0 डिग्री सेल्सियस
  • वनस्थली 11.1 डिग्री सेल्सियस
  • डबोक 11.4 डिग्री सेल्सियस
  • धौलपुर 11.9 डिग्री सेल्सियस
  • जवाई बांध 12.0 डिग्री सेल्सियस
  • भीलवाड़ा 12.4 डिग्री सेल्सियस

About Author
Atul Saxena

Atul Saxena

पत्रकारिता मेरे लिए एक मिशन है, हालाँकि आज की पत्रकारिता ना ब्रह्माण्ड के पहले पत्रकार देवर्षि नारद वाली है और ना ही गणेश शंकर विद्यार्थी वाली, फिर भी मेरा ऐसा मानना है कि यदि खबर को सिर्फ खबर ही रहने दिया जाये तो ये ही सही अर्थों में पत्रकारिता है और मैं इसी मिशन पर पिछले तीन दशकों से ज्यादा समय से लगा हुआ हूँ.... पत्रकारिता के इस भौतिकवादी युग में मेरे जीवन में कई उतार चढ़ाव आये, बहुत सी चुनौतियों का सामना करना पड़ा लेकिन इसके बाद भी ना मैं डरा और ना ही अपने रास्ते से हटा ....पत्रकारिता मेरे जीवन का वो हिस्सा है जिसमें सच्ची और सही ख़बरें मेरी पहचान हैं ....

Other Latest News