कर्मचारियों शिक्षकों के लिए राहत भरी खबर, सरकार ने जारी की वेतन-पेंशन के लिए राशि, एरियर का भी होगा भुगतान, जल्द खाते में आएगा पैसा

शिक्षा विभाग ने राज्य के सभी विश्वविद्यालयों को निर्देश दिया है कि नए वित्त वर्ष 2024-25 के लिए जून तक की धनराशि भी जारी कर दी। वेतन और पेंशन भुगतान में वित्तीय अनुशासन का पालन करें।

Pooja Khodani
Published on -

Bihar Employees Teacher Salary Pension :बिहार के विश्वविद्यालयों और संघटक महाविद्यालयों, अल्पसंख्यक और सहायता प्राप्त संस्थानों के शिक्षकों और कर्मचारियों के लिए खुशखबरी है। राज्य की नीतीश सरकार ने यूनिवर्सिटी के कर्मचारियों शिक्षकों के वेतन और पेंशन के लिए  राशि जारी की है।साथ ही राज्य के विश्वविद्यालयों के शिक्षकों, कर्मचारियों, अतिथि शिक्षकों और पेंशनभोगियों को पिछले वित्तीय वर्ष के बकाया वेतन के भुगतान के लिए भी धनराशि जारी कर दी।

राज्य सरकार ने जारी की इतनी राशि

राज्य सरकार ने के लिए राज्य विश्वविद्यालयों एवं संघटक महाविद्यालयों, अल्पसंख्यक एवं सहायता प्राप्त संस्थाओं के शिक्षकों एवं स्वीकृत पदों पर कार्यरत कर्मचारियों के वेतन एवं पेंशन के लिए 308.18 करोड़ रु की अनुदान सहायता जारी की है। राज्य सरकार ने नए वित्तीय वर्ष में शिक्षकों और कर्मचारियों को मार्च से जून तक के वेतन और सेवानिवृत्ति लाभों के भुगतान के लिए 1,148.47 करोड़ रु की राशि भी जारी कर दी है।राज्य सरकार ने अतिथि शिक्षकों के बकाया वेतन के लिए 140.10 करोड़ रु जारी किए हैं।

वेतन-पेंशन का हो भुगतान

शिक्षा विभाग ने राज्य के सभी विश्वविद्यालयों को निर्देश दिया है कि नए वित्त वर्ष 2024-25 के लिए जून तक की धनराशि भी जारी कर दी। वेतन और पेंशन भुगतान में वित्तीय अनुशासन का पालन करें। स्वीकृत पदों के अनुसार नियुक्त शिक्षक/शिक्षकेतर कर्मचारियों और अतिथि शिक्षकों को ही भुगतान किया जाए। भुगतान का मुख्य आधार वेतन सत्यापन कोषांग द्वारा किया गया सत्यापन होगा। विश्वविद्यालयों को भी निर्देश दिया गया है कि वे बकाया भुगतान एक महीने के अंदर सुनिश्चित करें और उसके उपयोगिता प्रमाण पत्र उपलब्ध कराएं।

अनुदान राशि के बारें में डिटेल्स

  • राज्य सरकार द्वारा वित्तीय वर्ष 2023-24 के लिए वेतन एवं पेंशन मद में जारी राशि का उपयोग शिक्षकों और शिक्षकेतर कर्मचारियों के पिछले बकाया वेतन और पेंशन के भुगतान के लिए किया जाएगा।
  • वित्तीय वर्ष 2024-25 के लिए वेतन एवं पेंशन मद  में मार्च 2024 से जून 2024 तक के लिए शिक्षकों और शिक्षकेतर कर्मचारियों के वेतन और पेंशन के भुगतान के लिए अनुदान राशि शामिल है।
  • अतिथि शिक्षकों का बकाया मानदेय वित्तीय वर्ष 2023-24 के लिए अतिथि शिक्षकों के बकाया मानदेय के भुगतान के लिए भी अनुदान राशि भेजी गई है।

About Author
Pooja Khodani

Pooja Khodani

खबर वह होती है जिसे कोई दबाना चाहता है। बाकी सब विज्ञापन है। मकसद तय करना दम की बात है। मायने यह रखता है कि हम क्या छापते हैं और क्या नहीं छापते। "कलम भी हूँ और कलमकार भी हूँ। खबरों के छपने का आधार भी हूँ।। मैं इस व्यवस्था की भागीदार भी हूँ। इसे बदलने की एक तलबगार भी हूँ।। दिवानी ही नहीं हूँ, दिमागदार भी हूँ। झूठे पर प्रहार, सच्चे की यार भी हूं।।" (पत्रकारिता में 8 वर्षों से सक्रिय, इलेक्ट्रानिक से लेकर डिजिटल मीडिया तक का अनुभव, सीखने की लालसा के साथ राजनैतिक खबरों पर पैनी नजर)

Other Latest News