प्रशांत किशोर के कांग्रेस में शामिल होने की अटकलें तेज, चर्चाओं का बाजार गर्म

राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के साथ मुलाकातों और एक अहम बैठक के बाद प्रशांत किशोर के कांग्रेस में शामिल होने की खबरों को लेकर सियासी गलियारों हलचल तेज हो गई है।

प्रशांत किशोर

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। देश के जाने माने चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर (Prashant Kishor)  के कांग्रेस में शामिल होने की अटकलें तेज हो गई है। सुत्रों की मानें तो  कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने एक बैठक कर प्रशांत किशोर को कांग्रेस (Congress) में शामिल करने के लिए वरिष्ठ पार्टी नेताओं से राय मांगी है। इसमें अधिकततर नेताओं का मत है कि किशोर के कांग्रेस में शामिल होने से पार्टी को आगामी चुनावों में बड़ा फायदा होगा।

यह भी पढ़े.. मध्य प्रदेश में बीजेपी ने पदाधिकारियों को सौंपे जिलों के प्रभार, यहां देखें पूरी लिस्ट

दरअसल, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के साथ मुलाकातों और एक अहम बैठक के बाद प्रशांत किशोर के कांग्रेस में शामिल होने की खबरों को लेकर सियासी गलियारों हलचल तेज हो गई है। सूत्रों के मुताबिक, राहुल गांधी ने 22 जुलाई को यह बैठक बुलाई थी, जिसमें वरिष्ठ नेता एके एंटनी, मल्लिकार्जुन खड़गे, कमलनाथ, अंबिका सोनी, हरीश रावत, केसी वेणुगोपाल और कुछ अन्य नेता शामिल हुए थे और पार्टी नेताओं से किशोर को कांग्रेस में शामिल करने और उनके भूमिका तय करने को लेकर मंथन किया गया है।

बैठक में ज्यादातर नेताओं ने प्रशांत के फेवर में समर्थन दिया और उन्हें शामिल करने से पार्टी को फायदा बताया।माना जा  रहा है कि अगर दोनों पक्ष सहमत होते हैं तो किशोर को पार्टी में कोई बड़ा पद देकर शामिल किया जा सकता है। कांग्रेस सूत्रों का कहना है कि प्रशांत किशोर के पार्टी में शामिल होने का प्रस्ताव है। हालांकि किशोर की ओर से कुछ नहीं कहा गया है और और कांग्रेस ने भी इस बारे में आधिकारिक रूप से कुछ नहीं कहा है।

यह भी पढ़े.. MP News: BJP प्रदेश पदाधिकारियों में कार्य विभाजन, जानें किसको क्या मिली जिम्मेदारी

बता दे कि बीते दिनों प्रशांत किशोर ने राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के साथ साथ NCP प्रमुख शरद पवार (NCP Sharad Pawar)  से दो बार मुलाकात की थी, जिसमें कई अहम मुद्दों पर चर्चा हुई है।वही हाल ही में राहुल गांधी की पार्टी नेताओं से मुलाकात हुई है, ऐसे में  सियासी गलियारों में प्रशांत के कांग्रेस में शामिल होने को लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया है।इस पूरे घटनाक्रम को भारतीय जनता पार्टी(BJP) के खिलाफ तीसरे मोर्चे या कोई नए सियासी समीकरण की तैयारी से जोड़कर माना जा रहा है।