PMAY: 1.47 हितग्राहियों को PM मोदी का तोहफा, खातों में 700 करोड़ रुपए ट्रांसफर

पीएम मोदी ने ट्वीट करके कहा कि त्रिपुरा के 1.47 लाख लाभार्थियों को प्रधानमंत्री आवास योजना- ग्रामीण (PMAY-G) की पहली किस्त दी जाएगी।

PMAY

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। आज 14 नवंबर 2021 बाल दिवस के मौके पर पीएम मोदी 1.47 लाख हितग्राहियों को बड़ा तोहफा दिया। आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग (PM Modi Video Conference) के जरिए पीएम मोदी त्रिपुरा के 1.47 लाख हितग्रहियों को ‘प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीणठ” (Pradhan Mantri Awaas Yojana, Gramin, PMAY-G) के तहत बैंक अकाउंट में सीधे 700 करोड़ रुपए ट्रांसफर कर दिया ।यह योजना की पहली किस्त है। केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री और त्रिपुरा के मुख्यमंत्री भी कार्यक्रम में शामिल रहे।वही प्रधानमंत्री इस कार्यक्रम में वर्चुअली शामिल हुए।

यह भी पढ़े.. MP News: 3 पंचायत सचिव निलंबित, 26 कर्मचारियों को नोटिस, 11 का वेतन रोका

इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि आज हमारा त्रिपुरा और समूचा पूर्वोत्तर बदलाव का साक्षी बन रहा है। आज प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत दी गई पहली किस्त ने त्रिपुरा के सपनों को भी नया हौसला दिया है।हमारी यही कोशिश है कि देश के सामान्य मानवी को किसी भी योजना के लिए न तो भटकना पड़े और न ही उसके पैसे को किसी बिचौलिए द्वारा छीना जाए। प्रधानमंत्री आवास योजना में पारदर्शी ढंग से चयन, घरों की जिओ टैगिंग, ग्रामसभा में नाम का एलान, निष्पक्ष सर्वे और DBT इसी सोच का हिस्सा है। आपको पहले की सरकारें भी याद होंगी, जहां कट कल्चर के बिना कोई काम ही नहीं होता था।

यह भी पढ़े.. BJP ने दिग्विजय पर दागा सवाल- भू माफिया रानी से मुरव्वत, गोंड रानी से नफरत क्यों!

बता दे कि प्रधानमंत्री आवास योजना- ग्रामीण भारत सरकार (India Government) के प्रमुख कार्यक्रमों में से एक है, जिसका लक्ष्य 2022 तक “सभी के लिए आवास” उपलब्ध कराना है। इस योजना के तहत साल 2021-22 तक सभी बुनियादी सुविधाओं के साथ 2.14 करोड़ प्रधानमंत्री आवास योजना- ग्रामीण घरों के निर्माण करने का उद्देश्य है। हालांकि इस सूची में शुरू में 2.95 करोड़ परिवार शामिल थे, कई स्तरों पर सत्यापन के बाद बहुत सारे घरों को पात्र नहीं पाया गया था। नवंबर 2016 में प्रधानमंत्री मोदी ने इस योजना की शुरुआत की थी।

कैसे चेक करें अपना स्टेटस

1. सबसे पहले प्रधानमंत्री आवास योजना की ऑफिशियल वेबसाइट जाएं।
2. यहां ‘Citizen Assessment’ का ऑप्शन पर क्लिक करिए।
2. नए पेज पर ‘Track Your Assessment Status’ का ऑप्शन पर क्लिक करिए।
3. E-रजिस्ट्रेशन नंबर भरिए और स्टेट चेक करने के लिए मांगी गई जानकारी भरें।
4. राज्य, जिला और शहर का चयन करके सबमिट कर दीजिए।आपके आवेदन का स्टेट्स आपकी स्क्रीन पर होगा।