UP Weather : मानसून का असर, 36 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट, आंधी-तेज हवा-बिजली गिरने की चेतावनी, जानें IMD का पूर्वानुमान

up weather

UP Weather alert Today : मध्य प्रदेश के उत्तर-मध्य भाग बने एक निम्न दबाव के क्षेत्र के चलते यूपी में अभी 48 घंटे तक तेज बारिश का दौर जारी रहने वाला है। आज 30 जून को पश्चिमी और पूर्वी उत्तर प्रदेश के लगभग सभी स्थानों पर गरज चमक के साथ बारिश का मौसम विभाग ने अनुमान जताया गया है। वही उत्तराखंड और नेपाल से सटे और तराई बेल्ट से जुड़े लगभग सभी जिलों और कानपुर जालौन के साथ हमीरपुर में भारी बारिश के लिए येलो अलर्ट जारी किया गया है।

यूपी मौसम विभाग के अनुसार, एक जुलाई को पश्चिमी और पूर्वी हिस्से में अनेक स्थान पर गरज चमक के साथ बारिश तो पूर्वी उत्तर प्रदेश में एक दो जगह भारी बारिश हो सकती है। 2 जुलाई को पश्चिमी यूपी में कुछ स्थान और पूर्वी यूपी तो 3 जुलाई को पश्चिमी यूपी में कुछ स्थान और पूर्वी यूपी के जिलों में बारिश की संभावना है। वही 4 और 5 जुलाई को भी पश्चिमी और पूर्वी उत्तर प्रदेश में बारिश के आसार हैं।

आज इन जिलों में भारी बारिश का अलर्ट

यूपी मौसम विभाग ने लखनऊ, बाराबंकी, सहरानपुर, शामली, मुजफ्फरनगर, बिजनौर, मुरादाबाद, बरेली, पीलीभीत, लखीमपुर खीरी, बहराइच, श्रावस्ती, गोंडा, अयोध्या, सिद्धार्थनगर, बस्ती, अंबेडकरनगर, आजमगढ़, गोरखपुर, मऊ, देवरिया, कुशीनगर, कानपुर, उन्नाव, आगरा, झांसी, वाराणसी, अलीगढ़, कन्नौज, मेरठ, गाजियाबाद, मथुरा, चित्रकूट, प्रयागराज, बांदा, अमेठी में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है।वही बाकी शहरों में मध्यम से हल्की बारिश , तेज हवाएं और बिजली गिरने का अनुमान है।

किसानों के लिए एडवाइजरी जारी

30 जून से 2 जुलाई 2023 के बीच यूपी के कई जिलों- अयोध्या, सुल्तानपुर, अमेठी, लखनऊ, रायबरेली, उन्नाव, जौनपुर, बाराबंकी, गोड़ा, बहराइच, कानपुर नगर, कानपुर देहात , जालौन, कन्नौज, औरेया, इटावा में मध्यम से घने बादल रह सकते हैं और इससे गरज-चमक व तेज हवाओं के चलने और मध्यम से भारी बारिश हो सकती है। वही किसानों को भी सूचित कर दिया गया है कि पकी फसलों की कटाई-मडाई कर दाने सुरक्षित कर ले और कटी हुई फसलों को इकट्ठाकर पॉलिथीन सीट से उन्हें ढक लें और सुरक्षित स्थान पर संरक्षित करें।

 


About Author
Pooja Khodani

Pooja Khodani

खबर वह होती है जिसे कोई दबाना चाहता है। बाकी सब विज्ञापन है। मकसद तय करना दम की बात है। मायने यह रखता है कि हम क्या छापते हैं और क्या नहीं छापते। "कलम भी हूँ और कलमकार भी हूँ। खबरों के छपने का आधार भी हूँ।। मैं इस व्यवस्था की भागीदार भी हूँ। इसे बदलने की एक तलबगार भी हूँ।। दिवानी ही नहीं हूँ, दिमागदार भी हूँ। झूठे पर प्रहार, सच्चे की यार भी हूं।।" (पत्रकारिता में 8 वर्षों से सक्रिय, इलेक्ट्रानिक से लेकर डिजिटल मीडिया तक का अनुभव, सीखने की लालसा के साथ राजनैतिक खबरों पर पैनी नजर)

Other Latest News