वोटिंग के दौरान झड़प, बीजेपी प्रत्याशी की कार के शीशे फोड़े, पुलिस ने किया लाठीचार्ज

voting-violence-in-asansol-Breaking-the-glasses-of-the-BJP-candidate's-car

कोलकता।

देश मे आज चौथे चरण के लिए मतदान हो रहा है।मध्यप्रदेश में जहां निर्दलीय प्रत्याशी की कार को नक्सलियों द्वारा आग लगाने का मामला सामने आने के बाद अब पश्चिम बंगाल मे बीजेपी प्रत्याशी की कार में तोड़फोड़ की बात सामने आई है। यहां आसनसोल में टीएमसी और बीजेपी समर्थक आमने-सामने आ गए, जिसके बाद पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। यहां पोलिंग बूथ के अंदर बीजेपी नेता बाबुल सुप्रियो भी कुछ लोगों से भिड़ते हुए नज़र आए।वही बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय ने टीएमसी पर गुंडों का साथ देने का आरोप लगाया है।

दरअसल, लोकसभा चुनाव 2019 के चौथे चरण के लिए आज देश की 72 सीटों पर मतदान जारी है। पश्चिम बंगाल की 8 सीटों पर भी सुबह ही मतदान शुरू हुआ.। यहां एक बार फिर मतदान के दौरान हिंसा हुई है।यहां पर बीजेपी और टीएमसी के समर्थक आमने-सामने आ गए और नारेबाजी करने लगे।जिसके बाद पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। यहां पोलिंग बूथ के अंदर बीजेपी नेता बाबुल सुप्रियो भी कुछ लोगों से भिड़ते हुए नज़र आए।

यहां बाबुल सुप्रियो की गाड़ी का शीशा भी तोड़ा गया है।बाबुल सुप्रियो का कहना है कि वह खुद सेंट्रल फोर्स को बूथ पर लेकर जाएंगे। उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी डरी हुई हैं, यही कारण है कि मतदान को प्रभावित किया जा रहा है।बताया जा रहा है कि आसनसोल में बीजेपी कार्यकर्ता केंद्रीय फोर्स की तैनाती की मांग कर रहे थे, इस बीच उन्होंने मतदान को भी रोक दिया।इसी दैरान टीएमसी समर्थक वहां पर आए और दोनों पक्षों के बीच भिड़ंत हो गई, तभी पुलिस ने दोनों पर लाठीचार्ज किया।

बता दे कि आसनसोल में कई ऐसे बूथ हैं, जहां पर सेंट्रल फोर्स की तैनाती नहीं हैं। इसमें बूथ नंबर 103, 104, 106 और 107 समेत कई बूथ शामिल हैंय़ बताया ये भी जा रहा है कि पहले यहां पर सेंट्रल फोर्स तैनात किए गए थे, लेकिन रातो-रात यहां पर महिला पुलिस को ड्यूटी पर लगा दिया गया।