IAS Transfer: एक दूसरे पर लगाए आरोप, दोनों महिला अधिकारियों का तबादला

2009 बैच की IAS अधिकारी सिंधुरी को आयुक्त, हिंदू धार्मिक और धर्मार्थ बंदोबस्ती के पद पर स्थानांतरित किया गया है।

IAS

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। दो भारतीय प्रशासनिक सेवा की महिला अधिकारियों (Women IAS Officer) को आपस में विवाद करना महंगा पड़ गया है।एक दूसरे के आरोप-प्रत्यारोप के बाद सरकार (Karnataka Government) ने 2009 बैच की आईएएस अधिकारी रोहिणी सिंधुरी (IAS Rohini Sindhuri) और 2014 बैच की आईएएस अधिकारी शिल्पा नाग (IAS Shilpa Nag)  का तबादला कर दिया है।इस संबंध में आदेश जारी कर दिए गए है।

यह भी पढ़े.. Sex Racket : दूसरे राज्यों से बुलाई जाती थी लड़कियां, आपत्तिजनक हालत में होटल से 13 अरेस्ट

दरअसल, पिछले कुछ दिनों से दोनों महिला अधिकारियों  के बीच खुलेआम विवाद चल रहा था, सिंदूरी ने नाग के कर्तव्यों के साथ-साथ 12.3 करोड़ रुपये के कॉरपोरेट सोशल रिस्पॉन्सिबिलिटी फंड (CSR) के खाते उपयोग करने के आरोप लगाया था, जिसके बाद नाग ने एक संवाददाता सम्मेलन में सिंधूरी पर ‘उत्पीड़न’ का आरोप लगाते हुए अपने इस्तीफे की घोषणा कर दी थी, हालांकि सिंधूरी ने इन आरोपों से इनकार करते हुए कहा था कि नाग से सिर्फ प्रबंधन से संबंधित जानकारी मांगी गई थी।

इसके बाद कर्नाटक सरकार द्वारा मैसूर की डिप्टी कमिश्नर रोहिणी सिंधुरी और मैसूर नगर निगम की कमिश्नर शिल्पा नाग  का तबादला कर दिया गया। 2009 बैच की IAS अधिकारी सिंधुरी को आयुक्त, हिंदू धार्मिक और धर्मार्थ बंदोबस्ती के पद पर स्थानांतरित किया गया है। वहीं मैसूर शहर निगम (MCC) आयुक्त शिल्पा नाग, 2014 बैच की आईएएस अधिकारी को उन्हें अगले आदेश तक निदेशक (ई-गवर्नेंस) ग्रामीण विकास और पंचायती राज (RDAPR) के रूप में तैनात किया गया है।

यह भी पढ़े.. VIDEO VIRAL 2021: बीच सड़क पर भड़की राखी सावंत, बोली- लड़की नहीं देखी अंकल ?

वहीं IAS रोहिणी सिंधुरी की जगह अब बेंगलुरू के वाणिज्यिक करों (Commercial Taxes) के अतिरिक्त आयुक्त डॉ बगदी गहूम (Dr Bagdi Gahum) को दी गई है। डॉ गहूम अब मैसूर के नए डिप्टी कमिश्नर होंगे। वहीं नाग की जगह लक्ष्मीकांत रेड्डी मैसूरु नगर निगम (MCC) के नए आयुक्त होंगे।इन दोनों आईएएस अधिकारियों के तबादलों के बाद सियासत गर्मा गई है।