पीएम आवास के हितग्राही ने पी लिया जहर, इलाज जारी, जानिए पूरा मामला

कर्ज में दबे पीएम आवास के हितग्राही ने जहर पी लिया। परिजनों का आरोप है कि मकान बनाने के लिए जिनसे पीड़ित द्वारा कर्ज लिया गया था वो अब पैसे वापस करने को लेकर दवाब बना रहे है, जिसके कारण पीड़ित ने आत्महत्या करने की कोशिश की।

बैतूल, वाजिद खान। बैतूल में पीएम आवास के हितग्राही ने कर्ज ना चुका पाने के कारण जहर पी लिया । हितग्राही सुभाष विश्वकर्मा को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां उसका इलाज चल रहा है । पुलिस भी इस मामले की जांच कर रही है ।

दरअसल, जिले में पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के माध्यम से उड़दन गांव के हितग्राही सुभाष विश्वकर्मा के पीएम आवास का गृह प्रवेश प्रधानमंत्री द्वारा करावाने का प्रयास किया गया था। उसका निर्माण कर्ज लेकर किया गया है। यह खुलासा तब हुआ जब मकान बनाने के फेर में कर्जदार बनने के कारण सुभाष ने रविवार को जहर पीकर आत्महत्या का प्रयास कर लिया।

गंभीर हालत में ग्रामीणों और परिजनों ने उसे उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया है। परिजनों ने आरोप लगाया है कि जिन लोगों से भी मकान बनाने के लिए कर्ज लिया गया था,वो पैसे लौटाने के लिए दवाब बना रहे है, जिससे परेशान होकर सुभाष ने अपनी जान देने का प्रयास किया है।

गौरतलब है कि बैतूल जनपद पंचायत के अंतर्गत आने वाले ग्राम उड़दन में निवास करने वाले सुभाष विश्वकर्मा की पत्नी सुशीला बाई के नाम पर प्रधानमंत्री आवास स्वीकृत किया गया था। इसके लिए मिले 1 लाख 20 हजार रुपये के अलावा करीब 2 लाख रुपये का सुभाष ने कर्ज लेकर दो मंजिला मकान बना लिया। मेहनत मजदूरी करने वाले सुभाष को यह उम्मीद थी कि वह कर्ज की समय पर अदायगी कर देगा लेकिन अब तक 2 लाख रुपये का कर्ज अदा नहीं कर पाया है।

जिला अस्पताल में अपने पति को लेकर पहुंची सुशीला विश्वकर्मा ने बताया कि शासन से मिली राशि से मकान नहीं बन रहा था। इस कारण से पति ने अपने दोस्तों और अन्य लोगों से कर्ज ले लिया था। अब उसे वापस नहीं कर पाने से वे पिछले कई दिनों से परेशान चल रहे हैं। सुशीला ने बताया कि मकान बनाने के लिए कर्ज लेने की बात हमने सभी अफसरों को भी बताई थी।

 

beneficiary-of-pm-awas-attempted-suicide

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here