boycott tanishq trending on twitter

नई दिल्ली,डेस्क रिपोर्ट। चाहे ज्वेलरी का एड (jwellery add) हो या घर की रोनक बढ़ाने वाले पेंट (paint) का एड हो, त्योहार का मौसम आते ही विज्ञापनों (advertisements)  का अंबार आ गया है। इसी कड़ी में देश के फेमस ज्वेलरी ब्रांड तनिष्क (famous jwellery brand tanishq) ने भी अपनी लेटस ज्वेलरी का विज्ञापन जारी किया था, लेकिन कुछ घंटे बाद ही तनिष्क ( tanishq)  को अपना विज्ञापन वापस लेना पड़ा।

ये भी पढ़े – तनिष्क का विज्ञापन वापिस लेने पर दिग्विजय सिंह ने रतन टाटा को दी ये सलाह

दरअसल, तनिष्क ( tanishq) के नए एड में एक हिंदू युवती को दिखाया गया है, जिसकी मुस्लिम परिवार में शादी हो रही है। एड में महिला की गोदभराई का कार्यक्रम दिखाया गया है। एड में मुस्लिम परिवार हिंदू रीति रिवाजों के हिसाब से सारी रस्में अदा करता है। एड के आखिर में एक गर्भवती महिला अपनी सास से पूछती है कि ‘मां ये रस्म तो अपने घर में होती ही नहीं है न?’ जिसपर उसकी सास ने जवाब दिया कि ‘पर बिटिया को खुश रखने की रस्म तो हर घर में होती है न?’ एड फिल्म में हिंदू-मुस्लिम परिवार की एकता को दिखाया गया है।

TANISHQ WITHDRAW ADD

वहीं इस एड के सामने आने के बाद तनिष्क (tanishq) पर लोगों का गुस्सा फूट गया और ट्वीटर पर #BoycottTanishq (#BoycottTanishq trending twiiter)  ट्रेंड करने लगा। जिसके बाद तनिष्क (tanishq) ने अपना एड वापस ले लिया। लोगों ने हिंदूं-मुस्लिम के बारे में बात करते हुए इसे पसंद नहीं किया और पूरे एड को लव-जिहाद (love jihad) को बढ़ावा देने इल्जाम लगा दिया। देखते ही देख ट्वीटर पर तनिष्क के खिलाफ मुहिम शुरु हो गई और लोग तनिष्क को बायकॉट करने के साथ उसके गहने नहीं खरीदने की बात करने लगे।

सोशल मीडिया पर लोगों के रिएक्शन