केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते का कमलनाथ पर निशाना, कहा- हताश होने पर व्यक्ति इस तरह की बातें सोचने लगता है

जबलपुर, संदीप कुमार। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के राजनीति से सन्यास लेने वाले बयान पर अब भारतीय जनता पार्टी के नेता तंज कसने लगे हैं,  केंद्रीय इस्पात राज्य मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते ने कमलनाथ के राजनीति से सन्यास मामले में कहा है कि व्यक्ति जब हताश हो जाता है और उसकी परेशानियां बढ़ने लगती है तो वह इस तरह की बातें सोचने लगता है। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि इसको लेकर कांग्रेस की क्या सोच है और कमलनाथ जी क्या चाहते हैं यह उनकी अपनी व्यवस्था है, और यह उनको ही तय करना है कि उन्हें कब तक राजनीति करना है और कब सन्यास लेना है।

कांग्रेस नही संभाल पा रही है अपने कार्यकर्ताओं को

केंद्रीय इस्पात राज्यमंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते ने जबलपुर प्रवास के दौरान मीडिया से बात करते हुए कहा कि वर्तमान में कांग्रेस पार्टी आज अस्थिर हो गई है, यही कारण है कि उनकी पार्टी के शीर्ष नेता भी अपने कार्यकर्ताओं को नहीं संभाल पा रहे हैं। कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ता लगातार भाग रहे हैं और इस स्थिति के लिए आज कांग्रेस स्वयं ही जिम्मेदार हैं। केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ आज हताश हो गए हैं और यही कारण है कि वह अब इस तरह की बयानबाजी कर रहे हैं।

बढ़ते पेट्रोल डीजल के दामों पर केंद्रीय मंत्री ने दी सफाई

पूरे देश में जिस तरह से पेट्रोल डीजल के दामों में आग लगी हुई है, उन दामों को लेकर केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते ने कहा कि पेट्रोल डीजल के दामों पर हमारा नियंत्रण बिल्कुल भी नहीं है। क्योंकि इसके दाम अंतरराष्ट्रीय बाजार में निर्धारित होते हैं और वही पेट्रोल डीजल के दामों को स्थाई किया जाता है।  हालांकि उन्होंने कहा कि अगर राज्य सरकार चाहे तो पेट्रोल डीजल में टैक्स करके आमजन को राहत दे सकती हैं।

आदिवासी मंत्री होने पर भी बोले केंद्रीय मंत्री फग्गनसिंह

मंत्रिमंडल के विस्तार होने और आदिवासी मंत्री को सहयोग देने पर केंद्रीय मंत्री ने कहा कि मंत्रिमंडल का विस्तार मुख्यमंत्री को करना है और अगर बात की जाए आदिवासी मंत्रियों की तो 4 केबिनेट मंत्री है। ये जरूर है कि  क्षेत्रीय संतुलन की अगर बात की जा रही है तो अभी उसकी संभावना बनी हुई है और जल्दी इस पर भी संतुलन बनाया जाएगा।