पहले सावन सोमवार पर उज्जैन में निकलेगी महाकाल की सवारी, सीएम शिवराज ने दी शुभकामनाएं

उज्जैन, डेस्क रिपोर्ट। आज श्रावण माह का पहला सोमवार है और उज्जैन के महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग मंदिर में सुबह से ही बाबा भोलेनाथ का आशीर्वाद पाने के लिए भक्तों की भीड़ लगी है। बता दें कि आज शाम 4 बजे भगवान महाकाल की पहली सवारी निकलेगी जिसमें राजाधिराज नगर भ्रमण पर निकलेगे। सीएम शिवराज सिंह चौहान ने भी सावन सोमवार पर सभी को बधाई और शुभकामनाएं दी हैं।

सीएम शिवराज ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि “आप सभी को पवित्र श्रावण मास के पावन सोमवार की बधाई और हार्दिक शुभकामनाएँ! यह पावन दिन और मास आपके जीवन को सुख, समृद्धि, आनंद से समृद्ध कर दे। देवाधिदेव महादेव की आप पर सदैव कृपा बनी रहे। समस्त दु:खों का नाश हो, सबका कल्याण हो।” वहीं उज्जैन में आज निकलने वाली महाकाल की सवारी के दौरान कोरोना संक्रमण की आशंका को देखते हुए मार्गों पर भक्तों का प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा। महाकाल सवारी के ऑनलाइन दर्शन मंदिर की वेबसाइट, फेसबुक पेज पर किए जा सकते हैं। परंपरा के अनुसार मंदिर के सभा मंडप में दोपहर करीब 3.30 बजे कलेक्टर आशीष सिंह भगवान के मनमहेश रूप की पूजा करेंगे और फिर पालकी नगर भ्रमण के लिए रवाना होगी। मुख्य शहनाई द्वार पर सशस्त्र बल की टुकड़ी अवंतिकानाथ को सलामी देगी और फिर राजा का नगर भ्रमण शुरू होगा।
25 जुलाई से सावन का महीना शुरू हो चुका है। श्रावण मास में भगवान शिव और माता पार्वती की पूजा की जाती है और आज सावन का पहला सोमवार है। अगर आप भी सावन सोमवार का व्रत कर रहे हैं तो सुबह जल्दी उठकर स्नान कर स्वच्छ वस्त्र धारण करें। मंदिर में दीपक जलाएं और सभी भगवान की मूर्तियों का जलाभिषेक करें। भगवान शिव की पूजा के लिए फूल, पंच फल पंच मेवा, रत्न, सोना, चांदी, दक्षिणा, पूजा के बर्तन, कुशासन, दही, शुद्ध देशी घी, चंदन, शिव व मां पार्वती की श्रृंगार की सामग्री शामिल करें। शिवलिंग पर गंगाजल और दूध चढ़ाएं। भगवान शिव को बेल पत्र अर्पित करें, शिव आरती करें और भोग भी लगाएं। इस तरह सच्चे मन से की गई पूजा और प्रार्थना को भोलेनाथ अवश्य स्वीकार करते हैं।