हाईटैक तकनीक के सहारे देते थे परीक्षा, 7 मुन्नाभाई पकड़ाए

जबलपुर। वन विभाग के टीएफआरआई में आयोजित लिपिक वर्गीय भर्ती परीक्षा में मुन्ना भाईयों के एक बड़े रैकेट का भंडाफोड़ हुआ है। जहां हाईटैक तरीके से स्कोरर उम्मीदवार की जगह परीक्षा देने बैठे थे, लेकिन चैकिंग के दौरान पकड़े गए। टीएफआरआई के मिली सूचना के बाद गौरी चैकी पुलिस 7 मुन्नाभाइयों को पकड़कर थाने ले आई जबकि 2 फरार बताए जा रहे है। पकड़े गए सभी हरियाणा के रहने वाले हैं। जिनके कब्ज़े से जप्त की गई आईडी फर्जी लग रही है। 

पुलिस ने दावा किया है कि ये एक बड़ा रैकेट है जो भारत भर में सक्रीय है। जबलपुर एसपी ने दावा किया कि पकड़े गए मुन्नाभाइयों ने बेहद हाईटैक तकनीक का इस्तेमाल कर परीक्षा दिया करते थे। जिसमें एक मोबाइल फोन और चिप का इस्तेमाल किया जाता था। मुन्नाभाई अपनी छाती में मोबाइल फोन को चिपकाकर जाते थे और प्रश्न पत्र की फोटो खींचकर उसे व्हाटस् एप करते थे। फिर कान में लगी चिप के ज़रिए धीमे धीमे उत्तर को सुनकर उसे लिखते थे। पुलिस पकड़े गए सभी मुन्नाभाईयो से पूछताछ कर उनके गिरोह की पतासाजी में जुट गई है।