Breaking News
फ्लॉप रहा कांग्रेस का 'घर वापसी' अभियान, सिर्फ कार्यकर्ता लौटे, नेताओं ने बनाई दूरी | शिवराज कैबिनेट की बैठक ख़त्म, इन प्रस्तावों पर लगी मुहर | सीएम चेहरे को लेकर सोशल मीडिया पर जंग, दिग्विजय भड़के | मुख्यमंत्री के काफिले पर पथराव, महिदपुर- नागदा के बीच की घटना, पुलिस वाहन के कांच फूटे | अब भोपाल में राहुल ने फिर मारी आंख, वीडियो वायरल | एमपी की 148 सीटों पर खतरा, बिगड़ सकता है बीजेपी का चुनावी गणित | LIVE: ऊपर से टपकने वाले को नहीं मिलेगा टिकट : राहुल गांधी | राहुल की सभा में उठी सिंधिया को सीएम कैंडिडेट घोषित करने की मांग | राहुल के भोपाल दौरे पर वीडियो वार..'कांग्रेस हल है या समस्या' | कांग्रेस का शक्ति प्रदर्शन: 11 कन्याओं ने उतारी राहुल की आरती, 21 पंडितों ने किया मंत्रोचार |

दर्दनाक सड़क हादसा : खाई में गिरी बस, 8 मौत की मौत, दो दर्जन से अधिक घायल

शिमला। 

हिमाचल प्रदेश के शिमला में आज एक बड़ा हादसा हो गया ।यहां हिमाचल पथ परिवहन निगम की बस शिमला से चालीस किलोमीटर दूर जा हादसे का शिकार हो गई। हादसे में करीब आठ लोगों की मौत हो गई,पुलिस ने मौतों की पुष्टि की है। मरने वालों में चार पुरुष और तीन महिलाएं हैं। वही करीब 26 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों को अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।वही शवों को पीएम के लिए भेज दिया गया है। बस हाईवे से लगभग 600 से सात मीटर नीचे खाई में गिरी है। कहा जा रहा है कि सड़क पर अगर क्रैश बैरियर लगे होते तो इतना बड़ा हादसा नहीं होता।हिमाचल के CM ने भी इस बस हादसे पर ट्वीट कर शोक जताया है। उन्होंने मरने वालों की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की। फिलहाल मामले की जांच की जा रही है।

जानकारी के अनुसार, हादसा ठियोग-हाटकोटी हाईवे पर छैला के पास हुआ है।  घायलों में एक की हालत काफी गंभीर बताई जा रही है।  बताया जा रहा है कि आज सुबह करीब आठ बजे बस शिमला से टिक्कर जा रही थी, तभी ये हादसा हो गया ।हादसे के कारण घंटों जाम लगा रहा।सूचना मिलते ही पुलिस और मेडिकल टीम मौके पर पहुंची और राहत-बचाव कार्य शुरु कर दिया । इनमें से 17 घायलों को आईजीएमसी शिमला रेफर किया गया है जबकि पांच घायल ठियोग अस्पताल में भर्ती हैं। ठियोग के डीएसपी रामलाल बंसल ने हादसे की पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि मामला दर्ज कर छानबीन की जा रही है।वही पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है। अभी तक हादसे के कारणों का पता नहीं चल पाया है।

  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...