MP Weather Update: मप्र के इन जिलों में गरज-चमक के साथ बारिश के आसार, येलो अलर्ट

MP Weather

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश में आज मंगलवार से मौसम (Weather) के मिजाज कुछ बदलने वाले है।मौसम विभाग (Weather Department) ने अगले 48 घंटे में कई संभागों और जिलों में बारिश (Rain) की संभावना जताई है।इसके लिए विभाग ने येलो अलर्ट (Yellow) जारी किया है। 16 और 17 मार्च को एक नया सिस्टम बनने की संभावना है। पिछले 24 घंटे में गुना, शाजापुर और खजराहो में बूंदाबांदी दर्ज की गई। इस बार का सिस्टम काफी मजबूत माना जा रहा है ।

यह भी पढ़े.. MP Weather: अगले 24 घंटों में बदलेगा मप्र का मौसम, यहां गरज-चमक के साथ तेज बारिश के आसार

मौसम विभाग (Weather Department) की माने तो पश्चिमी विक्षोभ(Western Disturbance) के उत्तर भारत में दाखिल होने के चलते भोपाल समेत उत्तर- पश्चिम मध्यप्रदेश में बादल छाए हुए है।इसके चलते अगले 48 घंटे में  बारिश की आशंका जताई गई है। विभाग की मानें तो इसके असर से 17 मार्च से प्रदेश में कहीं-कहीं गरज-चमक के साथ बरसात और 18-19 मार्च को तापमान (temperature) में उतार चढ़ाव के साथ मप्र में बादल छाने और कही कहीं बारिश के आसार (Weather Forecast) बन रहे है।

मौसम विभाग (Weather Department) के अनुसार, उत्तर-पश्चिम मप्र में 17 मार्च भोपाल, ग्वालियर, चंबल, उज्जैन और सागर संभाग और 18 मार्च को पूर्वी MP के जबलपुर, शहडोल संभाग में हल्की बारिश या बूंदाबांदी की संभावना संभावना है। तेज हवाओं के कारण फसलों को भी नुकसान हो सकता है।  इस सिस्टम का असर होशंगाबाद, भोपाल, उज्जैन संभाग में अधिक रहेगा। यहां ज्यादा बारिश होगी, लेकिन ग्वालियर-चंबल संभाग में मध्यम बारिश हो सकती है।

अन्य राज्यों का ऐसा है हाल

भारतीय मौसम विभाग (IMD) की माने तो पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र में 17 और 18 मार्च के दौरान हल्की बारिश और बर्फबारी(Snowfall) की संभावना (Weather Forecast) है।जम्मू और कश्मीर, लद्दाख, गिलगित-बाल्टिस्तान और मुजफ्फराबाद में 15 और 16 मार्च को भारी बारिश औरर 18 मार्च को उत्तर पश्चिमी भारत के मैदानी इलाकों में बिजली और गरज के साथ बारिश होने की संभावना है।16 और 17 मार्च को पंजाब, हरियाणा और दिल्ली सहित उत्तर प्रदेश के कुछ इलाकों में बारिश होने की संभावना है .

किसानों की बढ़ी चिंता, राहत राशि देगी सरकार

इस बेमौसम हुई बारिश ने किसानों (Farmers) की टेंशन बढ़ा दी है। ओलावृष्टि से फसलों को भारी नुकसान पहुंचा है. हालांकि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) और कृषि मंत्री कमल पटेल (Agriculture Minister Kamal Patel) ने क्षतिग्रस्त हुई फसलों का सर्वे करवाने के अधिकारियों को निर्देश दिए । इसके बाद जल्द ही किसानों को राहत राशि प्रदान की जाएगी।

इन जिलों-संभागों में बारिश के साथ बिजली गिरने के आसार

1WEATHER

 

1WEATHER 1WEATHER