निगमायुक्त का एक्शन, जोनल अधिकारी मनोज सक्सेना को किया निलंबित

यह कार्रवाई कार्यों के गड़बड़ी मामले में की गई है।

mp

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। भोपाल नगर निगम के जोनल अधिकारी (Zonal officer of municipal corporation) मनोज सक्सेना (manoj saxena) पर अब निलंबन (suspension) की कार्रवाई की गई है। दरअसल बीते दिनों नगर निगम के अपर आयुक्त पवन सिंह और क्रमांक 8 के जोनल अधिकारी मनोहर सक्सेना के बीच बातचीत का ऑडियो वायरल (audio viral)  हुआ था। जिसके बाद इस ऑडियो की जांच के आदेश दिए गए थे।

वही अब इस मामले में निगम आयुक्त बीएस चौधरी कोलसानी (BS Chaudhary Kolsani) ने नगर निगम के जोनल अधिकारी मनोहर सक्सेना को निलंबित कर दिया है। यह कार्रवाई कार्यों के गड़बड़ी मामले में की गई है।बता दें कि अशोक विहार कॉलोनी स्थित प्लॉट नंबर 452 और 404 के कागजात जोनल अधिकारी और अन्य कर्मचारियों द्वारा गायब कर दिए गए थे। जिसके बाद तत्कालीन राजस्व प्रभारी ओम प्रकाश द्विवेदी ने जांच के बाद अशोका गार्डन थाना क्षेत्र में इन लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी।

Read More: पंचायत चुनाव को लेकर हाईकोर्ट सख्त, शिवराज सरकार से माँगा जवाब

शिकायत दर्ज कराने के बाद पुलिस जांच में लालचंद पमनानी, महेश माथुर, मनोहर लाल सक्सेना सहित अन्य पर मामला भी दर्ज किया गया था। वहीं मई 2019 में इन पर न्यायालय द्वारा चालान भी पेश किया गया था।अब इस मामले में निगमायुक्त ने अपराधिक प्रकरण में जोनल अधिकारी मनोहर लाल सक्सेना ने उन्हें निलंबित कर दिया है। उन्होंने बताया कि महेश माथुर अब सेवानिवृत्त हो चुके हैं जबकि लालचंद पमनानी पहले से ही निलंबन की कार्रवाई झेल रहे हैं।