नरोत्तम-अजय सिंह की मुलाकात के बाद सियासी हलचल तेज, गोविन्द राजपूत बोले- स्वागत है

हमने खुद देखा है कि जितने दिन कमलनाथ मुख्यमंत्री रहे अजय सिंह सीएम हाउस की सीढ़ी नहीं चढ़ पाए।

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह (Ajay Singh) राहुल भैया और गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा (Dr Narottam Mishra) की मुलाकात ने सियासी गलियारों का पारा चढ़ा दिया है। अलग अलग पार्टियों के दो दिग्गज नेताओं की मुलाकात के बाद राजनीतिक पंडित इसके सियासी मायने निकालने लगे हैं इस बीच ग्वालियर (Gwalior ) पहुंचे प्रदेश के राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविन्द सिंह राजपूत ने बड़ा बयान दिया है उन्होंने कहा कि अजय सिंह लम्बे समय से कांग्रेस में उपेक्षित हैं। कमलनाथ में मुख्यमंत्री रहते वे सीएम हाउस की सीढ़ी नहीं चढ़ सके। उनका स्वागत है।

गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा से सोमवार को हुई पूर्व नेता प्रतिपक्ष दिग्गज कांग्रेस नेता अजय सिंह की मुलाकात ने प्रदेश की सियासी हलचल बढ़ा दी है। राजधानी से लेकर अजय सिंह के क्षेत्र तक नेता तरह तरह के कयास लगा रहे हैं।  लोग अंदाजा लगा रहे हैं कि अजय सिंह कांग्रेस छोड़ सकते हैं और भाजपा ज्वाइन कर सकते हैं? हालाँकि अभी ऐसे कोई भी संकेत किसी भी दल से नहीं मिले हैं। दोनों नेता इसे एक सौजन्य भेंट बता रहे हैं।

ये भी पढ़ें – सिंधिया के स्वागत में सजा शहर, तेजी से भरे जा रहे गड्ढे, एक दर्जन मंत्री करेंगे अगवानी

इस बीच ग्वालियर पहुंचे प्रदेश के परिवहन एवं राजस्व मंत्री गोविन्द सिंह राजपूत ने इसे समय मुलाकात ही बताया लेकिन साथ में ये भी जोड़ा कि अजय सिंह कांग्रेस में उपेक्षित हैं। उन्होंने पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण यादव एवं सुरेश पचौरी को भी कांग्रेस में उपेक्षित बताया।  मंत्री गोविन्द राजपूत ने कहा कि हमने खुद देखा है कि जितने दिन कमलनाथ मुख्यमंत्री रहे अजय सिंह सीएम हाउस की सीढ़ी नहीं चढ़ पाए।

ये भी पढ़ें – MP: प्रदेश में गृहमंत्री नरोत्तम संग अजय सिंह की मुलाकात, राजनीतिक हलचल तेज, क्या है सियासी मायने

अजय सिंह के भाजपा में आने के सवाल पर कैबिनेट मंत्री गोविन्द सिंह राजपूत ने कहा कि वो आएं नहीं आएं ,  उनका स्वागत है लेकिन मेरा कहना है कि अजय सिंह, अरुण यादव और सुरेश पचौरी को कांग्रेस सरकार में जो मान सम्मान मिलना चाहिए था वो नहीं मिला।