अमेरिका करेगा भारत में वैक्सीन के रॉ माल की आपूर्ति, वैक्सीन उत्पादन में आएगी तेजी

इसके साथ ही अमेरिकी विदेश मंत्री (america's foreign minister) एंटनी ब्लिंकन ने वैश्विक महामारी कोरोना (corona) से भारत में बिगड़ते हालात को देखते हुए कहा है कि ऐसे दौर में अमेरिका भारत के साथ खड़ा है। उन्होंने इस विकट परिस्थिति में हर मुमकिन सहायता देने का आश्वासन दिया है।

वैक्सीनेशन
vaccination

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। अमेरिका (america) एक बार फिर भारत (india) में वैक्सीन बनाने के लिए उपयोगी कच्चा माल (raw material) भेजने को तैयार हो गया है। ज्ञात हो कि बढ़ते संक्रमण के बीच अमेरिका ने भारत में वैक्सीन (vaccine) के कच्चे माल की आपूर्ति पर रोक लगा दी थी। अमेरिका के इस कदम से भारत सरकार और भारतीय वैक्सीन बनाने वाली कंपनियों को काफी चिंता हो गयी थी। लेकिन एक बार फिर अब अमेरिका ने भारत में वैक्सीन के कच्चे माल की आपूर्ति हेतु मंजूरी दे दी है। इसके साथ ही अमेरिकी विदेश मंत्री (america’s foreign minister) एंटनी ब्लिंकन ने वैश्विक महामारी कोरोना (corona) से भारत में बिगड़ते हालात को देखते हुए कहा है कि ऐसे दौर में अमेरिका भारत के साथ खड़ा है। उन्होंने इस विकट परिस्थिति में हर मुमकिन सहायता देने का आश्वासन दिया है।

यह भी पढ़ें… मशहूर साहित्यकार मंजूर एहतेशाम का निधन, साहित्य जगत की गहरी क्षति

अमेरिका द्वारा लगाई गयी वैक्सीन संबंधी कच्चे माल की आपूर्ति पर रोक को भारत के कई बार आग्रह पर अमेरिका ने हटाने का फैसला लिया है। ये भारत के लिए अच्छी खबर है। अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने ट्वीट करके ये जानकारी दी कि हम कोरोना के प्रकोप से जूझ रही भारत की जनता के साथ हैं। हम भारत सरकार के संपर्क में हैं और किसी भी तरह की ज़रूरत को पूरा करने का प्रयास किया जाएगा। वहीं अमेरिका के राष्ट्रीय सलाहकार जैक सुलिवन ने भी कहा कि हम भारत और कोरोना की लड़ाई में भारत के साथ खड़े हैं।बहुत ही जल्द वैक्सीन के कच्चे माल की आपूर्ति को पूरा किया जाएगा।

यह भी पढें… जबलपुर- सीएमएचओ रत्नेश कुरारिया और पत्नी कोरोना पॉजिटिव

ये भारत के लिए बहुत अच्छी खबर है। अमेरिका से वैक्सीन हेतु मिलने वाले कच्चे माल की आपूर्ति से वैक्सीन उत्पादन में तेजी आ सकेगी और वैक्सीन शॉर्टेज जैसे हालातों से हम बच सकेंगे। इसके साथ ही वैक्सीन उत्पादन में तेजी आने से ज़्यादा से ज़्यादा लोग कोरोना के खिलाफ वैक्सिनेट हो पाएंगे।