ममता को हराने वाले सुवेंदु के काफिले पर हमला, बोले अधिकारी- बंगाल में आतंक का माहौल

मामले में अधिकारी का कहना है कि TMC द्वारा पश्चिम बंगाल में आतंक का माहौल बनाया गया है और यही चाहती है। आज हल्दिया में मेरी कार पर TMC के लोगों ने पत्थर फेंके हैं। जनप्रतिनिधि के साथ ऐसी घटना होती है तो आप लोग कितने सुरक्षित हैं। बंगाल में ये एक बड़ा सवाल है।

हल्दिया, डेस्क रिपोर्ट। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव (West Bengal Assembly Elections) में तृणमूल कांग्रेस (TMC) ने धमाकेदार जीत हासिल की है। हालांकि इस जीत के साथ ही ममता बनर्जी (Mamta banerjee) को नंदीग्राम से हार का सामना करना पड़ा है। जहां बीजेपी (bjp) के सुवेंदु अधिकारी (Suavendu adhikari) ने उन्हें 1900 से अधिक वोटों से हरा दिया है। सुवेंदु अधिकारी नंदीग्राम से जीत गए हैं। जिसके बाद ममता बनर्जी ने अपनी हार स्वीकार की। हालांकि यह बात टीएमसी कार्यकर्ताओं को नागवार गुजरी है। वही जीत के बाद मतदान केंद्र से निकलने के बाद बीजेपी के नेता सुवेंदु अधिकारी की कार पर हल्दिया में हमला कर दिया गया।

हालांकि इस हमले में सुवेंदु अधिकारी बाल-बाल बच गए हैं। जबकि सुवेंदु अधिकारी ने काफिले पर हमले का आरोप टीएमसी के कार्यकर्ताओं पर लगाया है बता दें कि सुवेंदु अधिकारी के साथ-साथ मीडिया के वाहन पर भी हमला किया गया है हालांकि बाद में RAF जवानों ने पहुंचकर मामले पर काबू पाया।

Read More: दमोह में कांग्रेस की जीत पर बोले कमलनाथ- लोगों ने बीजेपी को जमीन दिखा दी, पतन की शुरुआत

बता दे कि सुवेंदु ने नंदीग्राम जीत के बाद लोगों का शुक्रिया किया था। जिसके बाद मतदान केंद्र से निकलने पर हल्दिया में उनके कार पर पथराव किया गया। इस मामले में अधिकारी का कहना है कि TMC द्वारा पश्चिम बंगाल में आतंक का माहौल बनाया गया है और यही चाहती है। आज हल्दिया में मेरी कार पर TMC के लोगों ने पत्थर फेंके हैं। जनप्रतिनिधि के साथ ऐसी घटना होती है तो आप लोग कितने सुरक्षित हैं। बंगाल में ये एक बड़ा सवाल है।

बता दे कि पश्चिम बंगाल के नंदीग्राम क्षेत्र हाईप्रोफाइल क्षेत्र रहा था जहां से टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी को टक्कर देने के लिए बीजेपी ने TMC से बीजेपी में शामिल हुए सुवेंदु अधिकारी को उतारा था हालांकि शुरुआत में सुवेंदु अधिकारी लगातार ममता से बढ़त बनाए हुए थे। बीच में ममता ने सुवेंदु को पीछे छोड़ दिया था लेकिन अंतिम राउंड के बाद निर्वाचन आयोग की तरफ से कहा गया कि सुवेंदु अधिकारी ने ममता बनर्जी को 1900 से अधिक वोटों से हरा दिया है।