ग्वालियर, अतुल सक्सेना।  सोशल मीडिया पर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamalnath)के वायरल वीडियो के बाद से सियासत उफान पर है। वीडियो में कमलनाथ Kamalnath) द्वारा आग लगा दो और अलग अलग बयानों में कोरोना वेरिएंट को इंडियन वेरिएंट (Indian Variant) कहने से भाजपा (BJP) कमलनाथ पर हमलावर है।  आज रविवार को भाजपा (BJP) ने पूरे प्रदेश में कमलनाथ (Kamalnath) के खिलाफ पुलिस में आवेदन देकर राष्ट्रद्रोह का मुकदमा दर्ज करने की मांग की।

कमलनाथ द्वारा पिछले दिनों कार्यकर्ताओं के साथ की वीसी के वायरल वीडियो में आग लगा दो शब्द को भाजपा ने आड़े लिया है।  भाजपा का कहना है कि कमलनाथ संकटकाल में भी कार्यकर्ताओं को प्रदेश में आग लगाने का सन्देश दे। वे या उनकी पार्टी के एक भी नेता कभी मदद के लिए आगे आये नहीं लेकिन कोरोना को हारने के लिए जब शिवराज सरकार और भाजपा जी तोड़ प्रयास  कर रहे हैं तो कांग्रेस और कमलनाथ ओछी राजनीति कर रहे हैं। भाजपा ने इसके खिलाफ आपत्ति जताते हुए रविवार को आज प्रदेश जे सभी जिलों के एसपी को कमलनाथ पर राष्ट्रद्रोह का मुक़दमा दर्ज करने की मांग के साथ आवेदन दिया।

पुलिस के पास पहुंची भाजपा, कमलनाथ पर राष्ट्रद्रोह का मुकदमा चलाने की मांग

ये भी पढ़ें – सीएम शिवराज का कमलनाथ पर निशाना, सोनिया गांधी से सवाल- क्या होगी कोई कार्रवाई

ग्वालियर में भाजपा जिला अध्यक्ष कमल माखीजानी ने पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ एसपी ऑफिस पहुंचे और उन्होंने डीएसपी हेड क्वार्टर विजय भदौरिया को आवेदन दिया। भाजपा जिला अध्यक्ष ने कहा कि एक मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा अपने कार्यकर्ताओं को आग लगाने का सन्देश देना, चीनी कोरोना वायरस को इंडियन वेरिएंट कहना शोभा नहीं देता।  मुझे लगता है कि कमलनाथ जी उग्र प्रवृत्ति के व्यक्ति हैं, आपातकाल वाली टोली में भी वे थे, जब सिख दंगे हुए 1984 में उसमें भी कमलनाथ शामिल थे। अब जह पूरा विश्व,देश, प्रदेश कोरोना से लड़ाई लड़ रहा है ऐसे में वे भय और भ्रम की राजनीति कर रहे हैं इसलिए उनके खिलाफ राष्ट्रद्रोह का मुकदमा दर्ज होना चाहिए साथ आईटी एक्ट की अन्य धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज होना चाहिए।

 ये भी पढ़ें – कमलनाथ का पलटवार- इस अपराध के लिए प्रदेश सरकार के खिलाफ दर्ज करवाएं FIR