अधिकारियों पर सख्त हुए सीएम शिवराज, कहा- करें कार्रवाई

इसके साथ ही साथ उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिया है कि प्रधानमंत्री आवास योजना की शेष किस्त के लिए केंद्र सरकार से भी आग्रह किया जाए।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya pradesh) में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) काम ना करने वाले अधिकारियों को लेकर सख्त नजर आ रहे हैं। पिछले दिनों कई अधिकारियों पर बड़ी कार्रवाई करने के बाद एक बार फिर उन्होंने अधिकारियों को फटकार लगाई है। समीक्षा बैठक के दौरान सीएम शिवराज (CM Shivraj) ने नगरीय प्रशासन (Urban administration) के अधिकारियों को साफ शब्दों में चेतावनी दी है कि उन्हें काम चाहिए, औपचारिकता नहीं।

दरअसल गुरुवार को नगरीय प्रशासन की समीक्षा बैठक के दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अधिकारियों के कामकाज को लेकर नाराजगी जताई। मध्यप्रदेश में स्मार्ट सिटी (MP Smart City) के काम को लेकर ग्वालियर (Gwalior) सहित पांच शहरों में धीमी प्रगति से सीएम शिवराज नाखुश दिखे। इसके साथ ही साथ उन्होंने सख्त कार्रवाई के निर्देश देते हुए अधिकारियों से कहा कि यदि निगम आयुक्त और संबंधित अधिकारी अपने काम का प्रतिफल नहीं दे पा रहे हैं तो उन्हें तत्काल प्रभाव से बदल दिया जाए।

Read More: दिग्विजय सिंह का सवाल- क्या कमलनाथ सरकार गिराने में आपका हाथ था मोदी जी?

हालांकि स्मार्ट सिटी की समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल और इंदौर के काम पर संतोष जताया और उनकी तारीफ की। इसके साथ ही साथ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रधानमंत्री आवास योजना (Prime Minister Housing Scheme) सहित, स्ट्रीट वेंडर योजना (Street vendor scheme) और दीनदयाल रसोई के बारे में भी समीक्षा की।

जहां जानकारी के बाद प्रधानमंत्री आवास योजना के बारे में जानकरी ली। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना में स्लम और गैर स्लम खत्म करके उन्हे केवल गरीबी श्रेणी में ही जगह दी जाए। इसके साथ ही साथ उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिया है कि प्रधानमंत्री आवास योजना की शेष किस्त के लिए केंद्र सरकार से भी आग्रह किया जाए।