सीएम शिवराज आज लेंगे मंत्रियों की बैठक, इन मुद्दों पर वन टू वन चर्चा

जिसमें सख्ती जताते हुए सीएम शिवराज ने कहा था कि इस योजना के क्रियान्वयन में मंत्री भी जिम्मेदार होंगे।

शिवराज सरकार

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। पिछले दिनों अधिकारी कर्मचारियों की बैठक के बाद आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (shivraj singh chauhan) प्रदेश के मंत्रियों के साथ वन टू वन चर्चा करेंगे। इस दौरान जहां एक तरफ अपने महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश (Aatmnirbhar madhya pradesh) को लेकर मंत्री समूह की बैठक लेंगे। वहीं दूसरी तरफ उनसे उनके विभागीय कार्यो में प्रगति पर भी विस्तृत चर्चा करेंगे।

दरअसल नए साल की शुरुआत से ही सीएम शिवराज (CM Shivraj) एक्शन मोड में नजर आ रहे हैं। प्रदेश के विकास मार्ग में अनियमितता लाने वाले को सीएम शिवराज फौरन बाहर का रास्ता दिखा रहे हैं। सोमवार को हुए अधिकारी कर्मचारियों की बैठक के बाद आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कोलार डैम के रेस्ट हाउस में मंत्रियों से आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश की समीक्षा बैठक करेंगे। स्थान की जानकारी मंत्रियों को गूगल लोकेशन के माध्यम से मंत्रियों को दी गई।

इसके साथ ही वह मंत्रियों से उनके कार्यों का फीडबैक लेंगे और मंत्री सीएम शिवराज को बताएंगे कि उनके विभाग द्वारा इस योजना में अगले 3 साल के लिए कार्यों के क्या रोडमैप तैयार किए गए है। इसके अलावा मंत्रियों के विभाग में अब तक दिए गए लक्ष्य में कितनी प्रगति हुई है। इस पर भी मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान चर्चा करेंगे।

Read More: बीजेपी ने अवैध कारोबार के खिलाफ सौंपा ज्ञापन, आंदोलन की चेतावनी

इतना ही नहीं बैठक में मंत्रियों को यह भी बताना होगा कि आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश के तहत उनका विभाग प्रदेश में कितनी रोजगार सृजन करेगा। सीएम शिवराज मंत्रिमंडल के सदस्य द्वारा उनके विभाग का प्रेजेंटेशन लेंगे। वहीं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान मंत्रिमंडल के सदस्य से मध्य प्रदेश की टीम के रूप में कार्य करने की अपील भी करेंगे।

बता दे कि इससे पहले आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश के रोडमैप तैयार करवाए गए थे। जहां जनता से जुड़े विभिन्न मुद्दों को शामिल किया गया था। इसके साथ ही रोजगार सृजन और प्रदेश का विकास से आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश के मुख्य धारा में शामिल किया गया था। वहीं यह प्रोजेक्ट मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट है। जिसमें सख्ती जताते हुए सीएम शिवराज ने कहा था कि इस योजना के क्रियान्वयन में अनियमितता लाने वाले मंत्री भी जिम्मेदार होंगे। जिसके बाद आज आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश के पहले चरण के कार्यों की समीक्षा बैठक सीएम शिवराज करेंगे। जिसमें भौतिक अधोसंरचना, स्वास्थ्य, शिक्षा, अर्थव्यवस्था, रोजगार सहित सुशासन शामिल किए गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here