कलेक्टर-SP पहुँचे नेमावर, 5 लोगों की हत्या के आरोपियों की संपत्ति जमींदोज

देवास, अमिताभ शुक्ला नेमावर (Nemavar) हत्याकांड में अब तक पुलिस 7 आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी है। जिसमें मुख्य आरोपी सुरेन्द और उसके दो साथी पुलिस रिमांड पर है। जबकि 4 आरोपियों को गुरुवार शाम जेल भेज दिया गया था। आज देवास कलेक्टर चन्द्रमौली शुक्ला और एसपी डॉक्टर शिव दयाल सिंह नेमावर पहुंचे। जहां आरोपियों से जुड़े अवैध निर्माण ध्वस्त किये जा रहे है।

मुख्य आरोपी सुरेन्द्र ने अपनी प्रेमिका को रास्ते से हटाने के लिए प्रेमिका और उसके परिवार के सदस्यों की निर्मम हत्या कर लाशें 10 फिट गहरे गड्ढे में दफ्न कर दी थी। जिसका खुलासा 47 दिनों बाद मंगलवार को हुआ था। पुलिस ने jcb से खुदाई कर सभी लाशें बरामद की थी।

कलेक्टर चन्द्रमौली शुक्ला ने कहा कि नेमावर की घटना अत्यंत जघन्य, इस तरह की घटनाओं के अपराधियों को बख्शा नहीं जाएगा। एसपी डॉ शिव दयाल सिंह ने कहा कि दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने के लिए त्वरित न्यायालय में सुनवाई होगी। देवास जिले में जिला प्रशासन ने नेमावर हत्या कांड के मुख्य आरोपी सुरेंद्र सिंह चौहान के मकान और दुकानों को ध्वस्त किया गया है। आरोपी विवेक तिवारी का 2 हजार स्क़वेयर फ़ीट में बना मकान भी तोड़ा गया है।

इससे पहले सीएम ने नेमावर (Nemavar) की घटना पर दुख जताते हुए कहा कि ये अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण है। जो अपराधी पकड़ लिए गए हैं। सीएम ने कहा कि ये मुकदमा फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलेगा और जो कुकृत्य उन्होने किया है उसके लिए उन्हें किसी भी कीमत पर छोड़ा नहीं जाएगा। सीएम ने कहा कि जल्दी से जल्दी ऐसे मामलों में सजा दी जाएगी और किसी अपराधी को छोड़ा नहीं जाएगा।

Read More: कंपनी का बड़ा दावा, इस Vaccine की सिंगल डोज है Delta Varient पर काफी असरदार

देवास जिले के नेमावर थाना क्षेत्र में एक ही परिवार के पांच लोगों के शव खेत से बरामद हुए थे। इनमें ममता बाई, रुपाली, दिव्या, पूजा और पवन शामिल थे। इनका एक भाई संतोष घर से दूर मजदूरी करता है, वह घर आया तो ताला लगा होने के बाद उसने तलाशी ली पर परिजनों का पता नहीं लग पाया। फिर उसने पुलिस थाने में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी।

वहीं लापता परिवार की बहन भारती भी पिथमपुर में कार्य करती है, उसे भी जब परिवार के लापता होने की सूचना मिली तो वह भी नेमावर आई। इसके बाद पुलिस भी लापता परिवार को तलाशने में जुट गई थी। इस मामले में पुलिस ने 6 लोगों को गिरफ्तार किया है और शुरूआती जांच में पता चला है कि मुख्य आरोपी सुरेन्द्र ने अपनी प्रेमिका रुपाली से तंग आकर अपने साथियों के साथ मिलकर परिवार की हत्या की थी।