सज्जन वर्मा का बड़ा बयान, मोदी ने किसानों को मजबूर किया, आज लालकिले में घुसे, कल तुम्हारे घर में भी घुसेंगे

कांग्रेस नेता ने कहा देश का अन्नदाता एक सीमा तक व्यवहार को कुशलता पूर्वक निभाता है, लेकिन जब उसके पेट पर आ जाती है तो ऐसा ही होता है| नरेंद्र मोदी जी अडानी और अंबानी की गुलामी करने से अच्छा है देश के अन्नदाता की गुलामी करो, जिससे देश का भला हो सके।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट| गणतंत्र दिवस (Republic Day) पर दिल्ली में किसानों की ट्रैक्टर रैली (Farmers Tractor Rally Delhi) के दौरान हिंसा को लेकर सियासत गरमा गई है| एक तरफ जहां कुछ नेता प्रदर्शनकारियों की हिंसा की निंदा कर रहे हैं तो वहीं कुछ इसके लिए केंद्र की मोदी सरकार (Modi Government) को ही दोषी मान रहे हैं| मध्य प्रदेश कांग्रेस (Mp Congress) के वरिष्ठ नेता व पूर्व मंत्री सज्जन वर्मा (Sajjan Verma) ने बड़ा बयान दिया है| उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने अन्नदाता को मजबूर किया है किसान आज लाल किले में घुसे हैं, कल उनके घरों में भी घुसेंगे।

अक्सर अपने बयानों को लेकर चर्चा में रहने वाले कांग्रेस नेता सज्जन वर्मा ने किसानों के दिल्ली में हुए प्रदर्शन में हिंसा पर मोदी सरकार को निशाने पर लिया है| उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार और पूरे मंत्रिमंडल की संवेदनाएं मर चुकी हैं| देश के अन्नदाताओं के सब्र का इम्तिहान कब तक लेंगे, दो महीने से कड़कड़ाती ठंड में भूख हड़ताल, आंदोलन अपने भविष्य के लिए किसान कर रहे हैं| जिसे इस समय खेत में होना चाहिए वो अपने बच्चों के लिए आंदोलन कर रहे हैं, 157 लोग मर चुके हैं, इन्हे शहीद का दर्जा देना चाहिए|

कांग्रेस नेता ने कहा देश का अन्नदाता एक सीमा तक व्यवहार को कुशलता पूर्वक निभाता है, लेकिन जब उसके पेट पर आ जाती है तो ऐसा ही होता है| इसके लिए नरेंद्र मोदी जिम्मेदार हैं, सब्र का बाँध टूटा तो किसान आज लाल किले में घुसे हैं, कल उनके घरों में भी घुसेंगे। नरेंद्र मोदी जी अडानी और अंबानी की गुलामी करने से अच्छा है देश के अन्नदाता की गुलामी करो, जिससे देश का भला हो सके।