Corona effect: MP पुलिस की सराहनीय पहल, इस तरह से कर रही 1100 मजदूरों की मदद

भोपाल।

देशव्यापी लॉक डाउन के बीच अन्य राज्यों से चलकर प्रदेश आए हुए मजदूरों के लिए प्रदेश पुलिस द्वारा एक सराहनीय कदम उठाई गई है। पुलिस ने विभिन्न जगह से आए हुए इन मजदूरों के लिए अस्थाई पुनर्वास केंद्र बनाया है। वहीं इनके खाने की व्यवस्था भी स्वयं पुलिस प्रशासन देख रही है। जहां पुलिस के साथ-साथ जनता भी इस नेक कार्य में उनके साथ खड़ी है बता दें कि यह सभी मजदूर प्रदेश के नीमच जिले की सीमा पर पहुंचे थे। जिसके बाद पुलिस ने अस्थाई पुनर्वास केंद्र बनाकर एवं सरकार के निर्देशों का पालन करते हुए सोशल डिस्टेंस के माध्यम से इन मजदूरों की देखरेख कर रही है।

दरअसल देशभर में 21 दिन के लॉक डाउन की घोषणा के बाद नीमच जिले की सीमा पर विभिन्न राज्यों से 1100 मजदूर पहुंचे थे। जिनके लिए नीमच पुलिस एवं प्रशासन ने जगह-जगह पर अस्थाई आवास के साथ-साथ भोजन का इंतजाम भी किया है। वही अंतर राज्य चेक पोस्ट बनाकर ढाबा होटल सहित मैरिज गार्डन को भी पुनर्वास शिविर बनाया गया है।जहां ठहराने से पहले मजदूरों का स्वास्थ्य परीक्षण किया जा रहा है। बता दे कि इनमें से राजस्थान एवं पंजाब के साथ पड़ोसी राज्यों के भी मजदूर जल्दी बाजी में अपने घर लौटने के लिए निकले थे। किंतु बढ़ते कोरोना संकट के बीच सारे आवागमन बंद होने के बाद यही पर फंस गए थे। अब जिला प्रशासन पुलिस प्रशासन एवं लोगों की भागीदारी से इन 1100 मजदूरों के रहने खाने की व्यवस्था की जा रही है।