डबरा : प्रशासन की छापेमार कार्रवाई, किल्लत के बीच दो दर्जन ऑक्सीजन सिलेंडर बरामद

बीती रात भी ऑक्सीजन की कमी के चलते JAH में दो मरीजों की मौत हुई है।

डबरा, सलिल श्रीवास्तव। देश सहित प्रदेश में एक तरफ जहां ऑक्सीजन की कमी के कारण हालत बेकाबू हो रहे हैं। वहीं इसकी कालाबाजारी थमने का नाम नहीं ले रही है। लगातार ऑक्सीजन की कालाबाजारी की खबर सामने आ रही है। इसी बीच अब प्रदेश के डबरा से ऑक्सीजन चोरी की बड़ी खबर सामने आई है।

आक्सीजन सिलेंडरों की मारामारी के बीच आज डबरा में एक घर में प्रशासन ने छापामार कार्यवाही की। जहाँ दो दर्जन के लगभग ऑक्सीजन सिलेंडर भरे हुए मिले। वहीं इतने ही सिलेंडर खाली मिले। पूरी कार्रवाई एडिशनल एसपी देहात जयराज कुबेर के नेतृत्व में डबरा की शिक्षक कॉलोनी में की गई। आपको बता दें कि डबरा की शिक्षक कॉलोनी में चेतन गुप्ता का मकान है यहाँ प्रशासन को सूचना मिली कि इस घर में ऑक्सीजन के सिलेंडर रखे हुए हैं।

Read More: शिवपुरी में होम क्वारंटाइन में आई समस्या तो पंचायत या सामुदायिक भवन के द्वार खुले

जब प्रशासन ने दल बल के साथ घर पर दबिश दी तो दो दर्जन के लगभग सिलेंडर भरे हुए मिले तो इतनी ही संख्या में खाली सिलेंडर यहां मिले। प्रशासन ने सभी सिलेंडरों को जप्त कर लिया है। सबसे बड़ी बात इस समय कोरोनावायरस के चलते ऑक्सीजन की काफी कमी हो रही है और ऑक्सीजन सिलेंडर लोग ब्लैक में लेने से भी नहीं चूक रहे। बीती रात भी ऑक्सीजन की कमी के चलते JAH में दो मरीजों की मौत हुई है।

ऐसे हालात में सिलेंडरों का स्टॉक सबसे बड़ी बात है। मौके पर पहुंचे एसडीएम प्रदीप शर्मा ने साफ तौर पर कहा कि ऐसे समय में जब लोग ऑक्सीजन के लिए परेशान हो रहे हैं और सरकार अलग-अलग जगह से ऑक्सीजन मुहैया कराने का प्रयास कर रही है। ऐसे में कालाबाजारी करने वाले लोगों को बख्शा नहीं जाएगा। यहाँ सबसे बड़ी बात यह रही की। जिस घर में सिलेंडर मिले है। उस घर के कई सदस्य पॉज़िटिव है। ऐसे में यह लोग यदि ज़रूरतमंद लोगों को सिलेंडर देते है तो उनके संक्रमण का ख़तरा भी बढ़ जाता है।