शिवपुरी में होम क्वारंटाइन में आई समस्या तो पंचायत या सामुदायिक भवन के द्वार खुले

खनियाधाना ग्रामीण क्षेत्रों में आने वाले लोगों को होम क्वारंटाइन (quarantine) कराने में अगर दिक्कत आएगी तो उन्हें पंचायत भवन, प्राथमिक स्कूल या किसी सामुदायिक भवन में रखा जाएगा। जिसकी जिम्मेदारी ग्राम पंचायत के सचिव और रोजगार सहायकों को सौंपी गई है।

शिवपुरी

शिवपुरी, शिवम पाण्डेय। शिवपुरी (shivpuri) जिले में कोरोना संक्रमण (corona infection) अपनी पूरी ताकत से अपना कहर बरसा रहा है। कोरोना को काबू में करने के लिए सरकार ने कोरोना कर्फ्यू (corona curfew) लगाया है लेकिन इससे भी कोरोना की चेन ब्रेक नही हो रही है। ऐसे में बढ़ते कोरोना के मामालों को ध्यान में रखते हुए बड़ा फैसला लिया गया है। खनियाधाना ग्रामीण क्षेत्रों में आने वाले लोगों को होम क्वारंटाइन (quarantine) कराने में अगर दिक्कत आएगी तो उन्हें पंचायत भवन, प्राथमिक स्कूल या किसी सामुदायिक भवन में रखा जाएगा। जिसकी जिम्मेदारी ग्राम पंचायत के सचिव और रोजगार सहायकों को सौंपी गई है।

यह भी पढ़ें… प्रदेश में बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच अधिकारी-कर्मचारी संघ की मंत्री से बड़ी मांग

आज खनियाधाना जनपद पंचायत के अंतर्गत आने वाली ग्राम पंचायतों में बने क्वारंटाइन सैंटरो का जायजा शिवपुरी जिला पंचायत से आए राजीव पाण्डेय, कार्यपालन यंत्री शिवपुरी केके शर्मा, परियोजना अधिकारी सहित सीईओ रामप्रसाद गोरसिया, सहायक यंत्री मिट्ठन रघुवंशी ने औचक निरीक्षण कर क्वारंटाइन सेंट्ररो का जयजा लिया। इसके साथ ही यहां पर इन सबने ग्रामीणों के बीच मास्क, साबुन और सैनिटाइजर का वितरण किया।

यह भी पढ़ें… देश में ऑपरेशन ऑक्सीजन हुआ तेज, सरकार, सेना और उद्योगपति आएंगे साथ

इस दौरान कोरोना से लड़ने के लिए राजीव पाण्डेय कार्यपालन यंत्री ने सभी से सहयोग करने की अपील भी की। राजीव पाण्डेय कार्यपालन यंत्री ने कहा कि यह महामारी है। सभी के सहयोग से ही इससे बचा जा सकता है। उन्होंने क्वारंटाइन सेंटर में व्यवस्था का जायजा लिया। कार्यपालन यंत्री शिवपुरी केके शर्मा ने निरीक्षण कर वाटर वर्क्स में स्थापित सामुदायिक किचन का भी निरीक्षण किया।