उमंग सिंगार पर FIR मामला, कमलनाथ के बंगले पर आज बनेगी कांग्रेस की रणनीति

इस बैठक के बाद कमलनाथ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मिलने का समय मांगे और उमंग सिंगार के मामले में निष्पक्ष जांच की मांग करें।

kamalnath

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। महिला मित्र सोनिया भारद्वाज (sonia bhardwaj) की सुसाइड मामले में आरोपी बनाए गए कांग्रेस विधायक और पूर्व मंत्री उमंग सिंगार (umar singar) के पक्ष में कांग्रेस (congress) अब खुलकर सामने है। प्रदेश अध्यक्ष और नेता प्रतिपक्ष कमलनाथ (kamalnath) के निवास पर गुरुवार को लगभग ढाई दर्जन विधायक बैठेंगे जहां इस मामले को लेकर उमंग के पक्ष में रणनीति बनाई जाएगी। उमंग सिंगार पर आत्महत्या के लिए दुश प्रेरित करने की FIR का मामला गरमा का जा रहा है।

जहां पुलिस इस मामले में साफ तौर पर कह रही है कि उसके पास पर्याप्त साक्ष्य सबूत हैं वहीं मृतका के बेटे का कहना है कि उमंग को गलत फंसाया जा रहा है और वे उसके लोकल गार्जियन की तरह है लिहाजा FIR. वापस होना चाहिए। अब कांग्रेस भी इस मुद्दे पर खुलकर उमंग के पक्ष में हैं। कमलनाथ के श्यामला हिल्स स्थित आवास पर दोपहर 12 बजे गुरुवार को कांग्रेस के लगभग 30 विधायक इकट्ठे होंगे जिनमें ज्यादातर आदिवासी विधायक हैं और यह सब मिलकर उमंग के पक्ष में क्या किया जा सकता है इस बारे में रणनीति बनाएंगे।

Read More: कोरोना: बीते 24 घंटे में मिले 5065 नए मरीज, 88 मौतें, 43 जिलों में 100 से कम केस

इस बात की पूरी उम्मीद है कि इस बैठक के बाद कमलनाथ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मिलने का समय मांगे और उमंग सिंगार के मामले में निष्पक्ष जांच की मांग करें। हालांकि सरकार पहले ही साफ कर चुकी है कि इस मामले में कानून अपना काम करेगा।

बता दे कि बीते दिनों कांग्रेस उमंग सिंघार (Former Minister and Congress Umang Singhar) के बंगले में एक महिला ने आत्महत्या कर ली। महिला ने सुसाइड नोट (Suicide Note) छोड़ा है, जिसमें उमंग सिंघार का नाम लिखा है। महिला ने सुसाइड नोट में परेशान होकर आत्महत्या करने की बात कही है।घटना के बाद पूर्व मंत्री के बंगले के बाद सुरक्षा बढ़ा दी गई है। बताया जा रहा है कि महिला पिछले 25 दिनों से दिल्ली से आकर भोपाल के शाहपुरा बी सेक्टर स्थित उमंग सिंघार के बंगले में रह रही थी। घटना के बाद हड़कंप मच गया है। वही सियासी गलियारों में भी हलचल तेज हो गई है।