पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ की सीएम शिवराज से मांग- दोषियों पर हो कड़ी कार्रवाई

बता दें कि सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अंतर्गत गरीबों को 1 रुपया किलो दिए जाने वाले नमक में रेत मिलने का मामला सामने आया है। इस मामले में लोगों कहना है कि पानी में डालते ही नमक बर्तन की तह में जाकर जम जाता है।

कमलनाथ

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। एक बार फिर मध्य प्रदेश (madhya pradesh) के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Former Chief Minister Kamal Nath) ने शिवराज सरकार (shivraj government) पर जमकर निशाना साधा है। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा है कि शिवराज सरकार में हर जगह भ्रष्टाचार, फर्ज़ीवाड़े, घोटाले और मिलावट का काम जारी है। दरअसल प्रदेश के कई जिलों में खाने वाली चावलों में भारी गड़बड़ी देखने को मिली थी। उसके बाद अब नमक में भी मिलावट की खबर सामने आई है।

जिस पर बोलते हुए पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि कई जिलों में गरीबों को जानवरों के खाने लायक चावल के वितरण किए जा रहे थे। अब गरीबों को सार्वजनिक राशन वितरण प्रणाली के तहत दिए जाने वाले नमक में भी मिलावट देखने को मिल रही है।

Read More: समर्थन मूल्य को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का बड़ा ऐलान

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा है कि नमक में रेत की मिलावट जबलपुर और सागर जैसे जिलों से सामने आई है। जो कि बेहद गंभीर और बेहद शर्मनाक है। इतना ही नहीं पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि प्रदेश भर में गरीबों को वितरित की जाने वाली राशन सामग्री की जांच की जाए। इसके साथ ही साथ पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मांग की है कि गरीबों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ बंद हो और दोषियों पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाए।

बता दें कि सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अंतर्गत गरीबों को 1 रुपया किलो दिए जाने वाले नमक में रेत मिलने का मामला सामने आया है। इस मामले में लोगों कहना है कि पानी में डालते ही नमक बर्तन की तह में जाकर जम जाता है। यह मामला सागर जिले के बीना ब्लॉक हो जबलपुर की राशन दुकानों में बाटी जा रहे नमक में सामने आया है।